October 22, 2021

ब्लैक फंगस, व्हाइट फंगस और येलो फंगस के बाद एस्परगिलोसिस फंगस ने दी दस्तक, जाने क़्या है इसके लक्षण।

 186 total views,  2 views today

भारत में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का कहर जारी है । वही अब भारत में कोरोना से ज्यादा फंगस संक्रमण का खतरा बढ़ने लगा है। अब कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में अन्य संक्रमण का भी खतरा बढ़ने लगा है, जैसे ब्लैक फंगस, व्हाइट फंगस और येलो फंगस। जिसके बाद एक और फंगस ने अपनी दस्तक दे दी है। जिसका नाम है एस्परगिलोसिस फंगस।

एस्परगिलोसिस फंगस ने दी दस्तक-

एस्परगिलोसिस फंगस ने भी अपनी दस्तक दे दी है। यह फंगस का मामला वडोदरा से सामने आया है। वडोदरा में एस्परगिलोसिस फंगस के आठ मामले सामने आए हैं। एस्परगिलोसिस ब्लैक फंगस की तरह घातक नहीं है, लेकिन यह खतरनाक हो सकता है।

कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में हुई पुष्टि-

एस्परगिलोसिस फंगस भी अन्य फंगस की तरह कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीजों में पाया गया। ब्लैक फंगस की तरह एस्परगिलोसिस फंगस भी मुख्य रूप से कोविड -19 के मरीजों में पाया गया है।

एस्परगिलोसिस फंगस के लक्षण-

एस्परगिलोसिस एस्परगिलस के कारण होने वाला एक संक्रमण है, जो एक प्रकार का फंगस है जो घर के अंदर और बाहर रहता है। इसमें स्वास्थ्य समस्याओं का अधिक खतरा होता है। एस्परगिलस के कारण होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं में एलर्जी प्रतिक्रियाएं, फेफड़ों में संक्रमण और अन्य अंगों में संक्रमण बढ़ने लगता है।