October 27, 2021

अल्मोड़ा: बेस अस्पताल में आरटीपीसीआर मशीन से हर रोज की जा रही है 700 सैंपलों की जांच, कोविड नियमों का हो रहा है उल्लघंन।

 89 total views,  2 views today

देश भर में कोरोना संक्रमण का कहर बढ़ रहा है। वही सभी राज्यों ने भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सख़्ती बरतनी शुरू कर दी है। वही अल्मोड़ा में भी बाहर राज्यों से आने वाले लोगों की प्रतिदिन जांच की जा रही है।

अल्मोड़ा में बढ़ाए गए सैंपलिंग जांच-

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी राज्यों में सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। वही अल्मोड़ा में भी कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए इन दिनों जिले में सैंपलिंग बढ़ा दी गई है।

बेस अस्पताल में हर रोज 700 से अधिक कोरोना सैंपलों की आरटीपीसीआर मशीन से हो रही है जांच-

बेस अस्पताल में अकेले हर रोज 700 से अधिक कोरोना सैंपलों की आरटीपीसीआर मशीन से जांच की जा रही है। जिसमें 150 से अधिक मरीज अस्पताल पहुंच कर सैंपल दे रहे हैं।

सैंपलिंग बढ़ने के साथ ही लैब पर भी बढ़ गया है लोड-

अस्पताल में हर रोज सैंपलिंग की जांच की जा रही है। वही बेस अस्पताल में तैनात डॉ. जितेंद्र ने बताया कि इन दिनों लैब में औसतन हर रोज 700 से अधिक कोरोना सैंपलों की जांच की जा रही है। जिसके साथ ही सैंपलिंग बढ़ने के साथ लैब पर लोड भी बढ़ गया है।

लोगों को 24 घंटे तक जांच रिपोर्ट का करना पड़ रहा है इंतजार-

अस्पताल में लोगों को जांच रिपोर्ट के लिए 24 घंटे तक का इंतजार करना पड़ रहा है। हर रोज लोग आरटीपीसीआर जांच करा रहे हैं।

सुबह 9 बजे से रात 10 बजे तक हो रही है सैंपलों की जांच-

अस्पताल में सुबह 9 बजे से रात 10 बजे तक सैंपलों की जांच की जा रही है। जिसमें सभी सैंपलों की अच्छे से जांच की जा रही है।

सामाजिक दूरी का नहीं रखा जा रहा है ध्यान-

अस्पताल जांच कराने आ रहे लोग सामाजिक दूरी का बिल्कुल ध्यान नही रख रहे हैं। लोगों द्वारा कोविड नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। बेस अस्पताल में कोरोना जांच को पहुंच रहे लोग शारीरिक दूरी का बिल्कुल पालन नहीं कर रहे हैं। वही जिला और महिला अस्पताल में आ रहे मरीज भी कोविड नियमों का पालन करते नजर नहीं आ रहे हैं। जिससे लोग कोरोना संक्रमण को खुद बुलावा दे रहे हैं।