October 26, 2021

अल्मोड़ा: फड़,पटरी व रेहड़ी व्यवसाइयों को राहत देने के संबंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन किया प्रेक्षित, कहा सरकार द्वारा की जाए आर्थिक मदद।

 328 total views,  4 views today

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का प्रकोप जारी है, जिसमें बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमण के मरीज सामने आ रहे हैं। इससे अस्पतालों में मरीजों की संख़्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। उत्तराखंड राज्य के अल्मोड़ा जिलें में भी स्थिति ऐसी बनी हुई है। इसी सम्बन्ध में अध्यक्ष फड़,पटरी व रेहड़ी यूनियन अल्मोड़ा ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेक्षित किया है।

फड़, पटरी और रेहड़ी व्यवसाइयों के संबंध में-

अध्यक्ष फड़, पटरी व रेहड़ी यूनियन अल्मोड़ा ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत उत्तराखण्ड को प्रेषित एक ज्ञापन में कहा है कि अल्मोडा जनपद में कोरोना काल के दौरान फड़, पटरी और रेहड़ी व्यवसाइयों का व्यवसाय कोरोना काल में ठप हो गया है । इनकी आजिविका व्यवसाय पर ही निर्भर होने से लाॅकडाउन व कोरोना संक्रमण के कारण ये आर्थिक कठिनाईयों से जूझ रहे हैं, इनके सम्मुख परिवार के भरण पोषण का संकट उत्पन्न हो गया है । वही साप्ताहिक फड़ लगाकर जीवन यापन करने वालों पर कोविड कर्फ़्यू की मार पड़ी है। कोविड कर्फ़्यू की अवधि बढ़ने से फड़, पटरी रेहड़ी का व्यवसाय करने वाले भुखमरी जैसी आर्थिक संकट से जूझ रहे है। ऐसे में विषम परिस्थितियों को देखते हुये सरकार को इनके हितों की रक्षा के लिये उचित निर्णय लिये जाने तथा इनकी आर्थिक मदद किए जाने की मांग की है।

जिसमें इन मांगों के संबंध में कहा गया-

1- फड़, पटरी और रेहड़ी का व्यवसाय करने वाले लोगों की सरकार द्वारा आर्थिक सहायता मदद दी जाय ।
2- फड़, पटरी और रेहड़ी का काम करने वाले व्यवसाइयों को जरूरत के अनुसार राशन दिया जाए।
3- फड़, पटरी और रेहड़ी व्यवसाइयों को अपना कारोबार करने की अनुमति दी जाए।
4- जो कारोबारी कोरोना संक्रमण के कारण मर गए हैं उनके परिवारजनों को सरकार द्वारा कम से कम आर्थिक मुआवजा दिया जाए।

इस दौरान यह लोग रहे मौजूद-

इस दौरान मुमताज अख़्तर सचिव फड़ व पटरी यूनियन, संजय गुप्ता, हसीन अंसारी, विजय लाल, मौहम्मद नाजिम, दुर्गा प्रसाद, मुनीर अंसारी आदि मौजूद रहे।