October 23, 2021

अल्मोड़ा: रामनगर -बद्रीनाथ प्रांतीय मार्ग पर मछोड़ के समीप चोरीघट्टी के पास कार हुई दुर्घटनाग्रस्त, पिता- पुत्री की मौके पर हुई मौत।

 67 total views,  2 views today

हुआ एक बड़ा सड़क हादसा, छीन ली दो जिंदगियां।
कुछ अरमान कुछ खुशियाँ, सब हो गई तबाह।

रामनगर -बद्रीनाथ प्रांतीय मार्ग पर मछोड़ के समीप चोरीघट्टी  के पास कार हुई दुर्घटनाग्रस्त-

रामनगर के बद्रीनाथ प्रांतीय मार्ग पर मछोड़ के समीप चोरीघट्टी  के पास गाजीयाबाद से आ रही कार दुर्घटना ग्रस्त हो गयी। जिसमें कार बुरी तरह दुर्घटनाग्रस्त हो गई।

पिता- पुत्री की हुई मौके पर ही मौत, वही 6 लोग घायल-

कार में सवार  पिता-पुत्री की मौके पर मौत हो गई, जबकि हादसे में 6 लोग घायल हो गये।

मृतका की एक हफ़्ते बाद ही थी शादी-

मृतका की एक सप्ताह बाद ही शादी थी। इस हादसे के बाद परिवार की खुशिया मातम में बदल गई हैं। जिन हाथों में महंदी सजनी थी, वह दुनिया को ही अलविदा कह गई ।

जाने पूरा मामला-

विकास खण्ड भिकियासैंण अंतर्गत   धमेड़ा बाजन के मूल व हाल निवासी गाजियाबाद  कमल सिंह रावत की बेटी किरन की आगामी 27 अप्रैल को  गांव में शादी होनी तय थी। इसके लिये कमल सिंह व उनका परिवार दिल्ली से गांव लौट रहा था। मंगलवार सुबह लगभग 7.30 बजे के आसपास गाजियाबाद से दूरी तय कर आरही कार संख्या—यूपी 16 एएक्स 3524 अनियंत्रित होकर चोरी घट्टी 60 मीटर खाई में जा गिरी। हादसे के दौरान कार में कुल 8 लोग सवार थे। हादसे की सूचना ​मिलते ही भतरौंजखान थानाध्यक्ष अनीश अहमद पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। यहां रेग्यूलर,राजस्व पुलिस व स्थानीय लोगों ने राहत व बचाव कार्य तेजी से किया।हादसे में कमल सिंह 54 वर्ष उनकी पुत्री किरन 26 वर्ष निवासी धमेड़ा बाजन की मौके पर दर्दनाक मौत हो गई, जबकि चालक बागम्बर सिंह पटवाल,मंजू निवासी धमेड़ा,श्यामसुंदर निवासी धमेड़ा,हेमा देवी व नियति बिष्ट निवासी सिनौड़ा,ललितसिंह निवासी कड़ाकोट घायल हो गये।

घायलों को चिकित्सालय में किया भर्ती-

कार दुर्घटना में घायलों को पीएचसी भतरौंजखान व पीएचसी मछोड़ में प्राथमिक उपचार के बाद नागरिक चिकित्सालय रानीखेत रिफर किया गया। घायलों में एक की हालत गंभीर बतायी गयी है। दोनों शवों को कब्जे में लेकर राजस्व उपनिरीक्षक पनुवाद्योखन अभिनव कुमार,केएन रिखाड़ी,जगमोहन,बलवंतसिंह ने पंचनामा की कार्यवाही कर पीएचसी भतरोंजखान में पोस्टमार्टम कराया। जिसका पीएम रानीखेत से पहुचें डॉ हर्षवर्धन पंत व उनकी टीम ने किया। इसके बाद शवों को परिवारजनों को सौंप दिया गया है।