October 19, 2021

भैंसियाछाना के हरडा गांव में 32 लोग हुए कोरोना संक्रमित, बनी दहशत, स्वास्थ्य विभाग तथा प्रशासन हुआ अलर्ट।

 202 total views,  2 views today

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का दौर जारी है। उत्तराखंड में भी ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। अल्मोड़ा में भी हर रोज कोरोना संक्रमण के नये मामले सामने आ रहे हैं। विकासखंड भैंसियाछाना के हरडा गांव में 32 लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से हड़कंप मच गया, जिससे ग्रामीणों में भी डर बना हुआ है।

स्वास्थ्य विभाग तथा प्रशासन हुआ अलर्ट-

जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग तथा प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव पहुंचकर ग्रामीणों को समुचित उपचार का भरोसा दिलाया। उन्होंने लोगों को कोविड नियमों का पालन करने के निर्देश दिए। आसपास के गांव में भी जांच अभियान तेज कर दिया है। गुरुवार देर रात आई रिपोर्ट में पेटसाल के 3, कुमोली  एक,बाड़ेछीना से एक व्यक्ति की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है।

32 लोग पाए गए हैं कोरोना संक्रमित-

बीते 18 मई मंगलवार को हरडा गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 162 लोगों का सैंपल लिये थे। जिसमें से 32 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। एक साथ 32 लोगों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने से पूरे विकासखंड में हड़कंप मच गया है। अभी तक विकासखंड के किसी भी गांव से इतनी अधिक मात्रा में कोरोना संक्रमित नहीं आए थे।

गांव में आवश्यक दवाइयां का किट व दिए जरूरी दिशा निर्देश-

स्वास्थ्य विभाग के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संजीव शुक्ला ने बताया कि शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव पहुंचकर संक्रमितो को आवश्यक दवाइयां का किट व जरूरी दिशा निर्देश दिए। वही ग्रामीणों को घर पर रहने की अपील की गई है। वर्तमान में सभी को होम आइसोलेट किया गया है।

गांव के अन्य लोगों की भी होगी जांच-

किसी व्यक्ति की तबीयत खराब होने पर उसे तत्काल बेस चिकित्सालय भेजा जाएगा। वही जरूरत पड़ने पर गांव के अन्य लोगों की भी जांच की जाएगी। डॉक्टर शुक्ला ने कहा कि ग्रामीणों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। जांच टीम हर संक्रमित के घर जाकर उसकी जांच करेगी। चिकित्सकों की टीम सभी संक्रमितो पर नजर बनाए हुए हैं।  ग्राम प्रधान हरड़ा नवीन रावत ने बताया कि उन्होंने प्रशासन  से गांव को कंटेनमेंट जोन बनाए जाने की मांग की है। वही राजस्व उपनिरीक्षक तथा ग्राम विकास अधिकारी को सूचित कर दिया गया है।