October 5, 2022

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस 2022: क्यों मनाया जाता है अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस, जानें इतिहास और इस बार की थीम

 1,229 total views,  2 views today

हर साल 12 मई को अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की शुरुआत 1974 से ही हुई थी। तबसे मशहूर नर्स फ्लोरेंस नाइटिंगेल के जन्म दिवस यानी 12 मई को अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है। वर्ष 1820 में इसी दिन दुनिया की सबसे प्रसिद्ध नर्स फ्लोरेंस नाइटिंगेल पैदा हुई थीं। वह एक अंग्रेजी नर्स, एक समाज सुधारक और एक सांख्यिकीविद् थीं, जिन्होंने आधुनिक नर्सिंग के प्रमुख स्तंभों की स्थापना की।

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस का इतिहास

‘द लेडी विद द लैंप’ के नाम से जानी जाने वाली फ्लोरेंस नाइटिंगेल ‘आधुनिक नर्सिंग’ की संस्थापक थी, जिन्होंने क्रीमियन युद्ध के दौरान घायल हुए ब्रिटिश और संबद्ध सैनिकों के नर्सिंग प्रभारी के रूप में काम किया था। फ्लोरेंस नाइटिंगेल ने अपना ज्यादातर समय घायलों की देखभाल करने में बिताया। वह नर्सों के लिए औपचारिक प्रशिक्षण स्थापित करने वाली पहली महिला थीं।  नाइटिंगेल स्कूल ऑफ नर्सिंग विश्व का पहला नर्सिंग स्कूल था, जिसका उद्घाटन 1860 में लंदन में किया गया था। साथ ही मिडवाइव्स के लिए प्रशिक्षण स्कूल स्थापित करने के पीछे भी फ्लोरेंस नाइटिंगेल का ही हाथ था। वह पहली महिला थीं, जिन्हें 1907 में ऑर्डर ऑफ मेरिट से सम्मानित किया गया था।

सरकार ने इनकी सुरक्षा के लिए उठाए हैं कई कदम

सरकार ने फ्रंटलाइन हेल्थकेयर श्रमिकों के लिए कई महत्वपूर्ण कदम उठाएं हैं।सरकार ने कोविड-19 से लड़ने वाले स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को बीमा कवर प्रदान करने के लिए “प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज बीमा योजना” को भी मंजूरी दी है। इस योजना के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं सहित कुल 22.12 लाख सार्वजनिक स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं, जिन्हें कोविड ​​-19 रोगियों के सीधे संपर्क में रहना पड़ता है और इससे प्रभावित होने का जोखिम रहता है, के लिए 90 दिनों के लिए 50 लाख का बीमा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, यह बीमा कोविड-19 के संपर्क में आने पर जानमाल के आकस्मिक नुकसान को भी कवर करेगी। इसके साथ ही फ्रंटलाइन स्वास्थ्य कर्मियों  की सुरक्षा के लिए, किसी भी हिंसा के खिलाफ स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा के लिए एक अध्यादेश लाया गया है।

कृतज्ञता दर्शाने का शानदार अवसर

वर्तमान में चल रहे कोविड महामारी के बीच इस दिन का महत्व और भी अधिक बढ़ गया है । नर्स अस्पतालों और क्लीनिकों की रीढ़ की हड्डी हैं, जो अपनी जान जोखिम में डालकर समाज की सेवा करती है । यह दिन सभी  नर्सों के द्वारा की जा रही निस्वार्थ सेवा के लिए उनके प्रति कृतज्ञता को दर्शाता है  यह अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस उनके लिए हमारी गहरी कृतज्ञता व्यक्त करने का एक शानदार अवसर है।

अंतर्राष्ट्रीय नर्स दिवस  2022 की थीम

इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सेस (International Council of Nurses) की ओर से इस बार इंटरनेशनल नर्सेस डे 2022 की थीम है. ‘नर्सेस : ए वॉयस टू लीड- इन्वेस्ट इन नर्सिंग एंड रिस्पेक्ट राइट्स टू सिक्योर ग्लोबल हेल्थ’. यानी नर्सेस: नेतृत्व के लिए एक आवाज – नर्सिंग में निवेश करें और ग्लोबल हेल्थ को सुरक्षित रखने के अधिकारों का सम्मान करें ।