October 16, 2021

रानीखेत: दिल्ली में उत्तराखंड की युवतियों के साथ अभद्रता पर महिला आयोग की उपाध्यक्ष ने लिया संज्ञान, आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की

 2,300 total views,  2 views today


कुछ दिनों पहले दिल्ली में उत्तराखंड मूल की युवतियों के साथ अभद्रता और मारपीट की घटना हुई। जिसमें महिला आयोग की उपाध्यक्ष ने संज्ञान लिया और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। आयोग उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा ने पीड़ित परिवार से वार्ता करने के साथ इस संबंध में राष्ट्रीय महिला आयोग को पत्र भेजा है। राष्ट्रीय महिला आयोग से इस मामले में सख्त कार्रवाई की मांग करते हुए आयोग अध्यक्ष रेखा शर्मा को भी उन्होंने पत्र भेजा है।

राज्य महिला आयोग ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की-

जिसमें मंगलवार को आयोग की उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा ने कहा कि कुछ दिन पूर्व दिल्ली के डाबरी थाना क्षेत्र अंतर्गत विजयनगर इनक्लेव में उत्तराखंड मूल की तीन युवतियों के साथ कुछ युवकों ने अभद्रता की। विरोध करने पर दबंग युवक पूरी गैंग के साथ युवतियों के घर पहुंच गए और उनके साथ मारपीट, अभद्रता और गाली-गलौच की गई। दबंगों ने युवतियों को पुलिस में शिकायत करने पर दुष्कर्म और चेहरा खराब करने की तक धमकी दी। आयोग उपाध्यक्ष ने कहा कि पीड़ित युवतियां जब न्याय के लिए पुलिस के पास पहुंची, तो पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। बाद में आरोपियों के खिलाफ मामूली धाराओं में का किए जाने से सभी आरोपियों को तत्काल ही जमानत मिल गई।

दिल्ली सरकार को इस तरफ ध्यान देते हुए महिलाओं की सुरक्षा की दिशा में उठाने होंगे ठोस कदम-

आयोग उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा ने कहा कि राजधानी दिल्ली में उत्तराखंड मूल की महिलाओं के साथ हुआ दुर्व्यवहार काफी गंभीर व चिंताजनक है। घटना के बाद से अपराधियों के हौसले और अधिक बुलंद हो चले हैं। वहीं, पीड़ित युवतियां अब घरों से बाहर निकलने में भी डर रही हैं। पीड़ित परिवार न्याय की गुहार लगा रहे हैं। आयोग उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा ने कहा कि दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए जिससे भविष्य में वे जघन्य अपराध को अंजाम न दे सकें। दिल्ली सरकार को इस तरफ ध्यान देते हुए महिलाओं की सुरक्षा की दिशा में ठोस कदम उठाने चाहिए।