October 16, 2021

रूद्रपुर: एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने पेश की इंसानियत की मिसाल, ऐसे बचाई कोरोना संक्रमित दो युवकों की जान।

 96 total views,  2 views today

देश भर में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का खौफ बना हुआ है, जो ज्यादा घातक साबित हो रहा है। वही कोरोना काल में कोरोना वैक्‍सीन की तरह ही प्‍लज्‍मा  को भी वरदान माना जा रहा है। हम बात कर रहे हैं,रूद्रपुर के एसएसपी दलीप सिंह कुंवर की। जिन्होंने इंसानियत की मिसाल कायम की है।

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने प्लाज्मा डोनेट कर मानवता की पेश की मिसाल-

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने मानवता की पेश की मिसाल, जिसमें उन्होंने प्लाज्मा डोनेट कर दो युवकों की जान बचाई। उन्होंने चार सौ एमएल रक्तदान कर कोरोना संक्रमित दो लोगों की जान बचाई।

प्लाज्मा डोनेट कर दो कोरोना संक्रमित युवकों की बचाई जान-

पुलिस विभाग में कार्यरत कर्मचारी के रिश्तेदार के कोरोना संक्रमित होने के बाद वह सुशीला तिवारी वन चिकित्सालय हल्द्वानी में भर्ती था। जहां उसकी हालत बिगड़ने लगी। जब यह बात बात पुलिस मुख्यालय तक पहुंची। पुलिस महानिदेशक के दिशा निर्देश में टीम मिशन हौसला पर काम कर रही है। जिसमें मुख्यालय से एबी पॉजीटिव प्लाज्मा का संदेश प्रसारित हुआ तो 58 वर्षीय एसएसपी दलीप सिंह कुंवर प्लाज्मा डोनेट करने का हल्द्वानी पहुंच गए। जहां उन्होंने प्लाज्मा डोनेट करने की तैयारी की तो पता लगा कि वहां पर एक और युवक भी गंभीर हालत में भर्ती है और उसको भी एबी पॉजीटिव प्लाज्मा की जरुरत है। ऐसे में एसएसपी कुंवर चार सौ एमएल प्लाज्मा देने में जरा भी संकोच नहीं किया। जहां उन्होंने अपना प्लाज्मा डोनेट किया,और दोनों युवकों की जान बचाई। उनके इस प्रयास से हेमचंद्र पांडे आयु 37 वर्ष पुत्र घनश्याम पांडे निवासी बिंदुखत्ता लालकुआं नैनीताल व सचिन जोशी आयु 29 वर्ष पुत्र नवीन जोशी निवासी कुसुमखेड़ा हल्द्वानी की जान बचा पाना संभव हो पाया है।

प्लाज्मा डोनेट करने वाले पहले आईपीएस बने दलीप सिंह कुंवर-

एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने प्लाज्मा डोनेट कर लोगों के दिलों में जगह बना ली है। वही वह उत्तराखंड के पहले आईपीएस है जिन्होंने मिसाल कायम करते हुए प्लाज्मा डोनेट किया। जबकि उनकी आयु अधिक होने पर एक व्यक्ति के लिए ही प्लाज्मा डोनेट करने की सलाह दी गई थी, लेकिन उन्होंने मानवता का परिचय देते हुए विभाग के साथ ही आम आदमी की जान बचाने का काम किया। उनके इस सराहनीय कार्य के लिए सभी लोग उनकी तारीफ कर रहे हैं।