October 26, 2021

ताड़ीखेत : संयुक्त मजिस्ट्रेट के भरोसे ग्रामीणों ने पेयजल आंदोलन को किया स्थगित, अगर नहीं हुआ निराकरण तो फिर से शुरू होगा क्रमिक अनशन..

 60 total views,  2 views today

ग्रामीणों ने संयुक्त मजिस्ट्रेट के आश्वाशन पर  किया आंदोलन स्थगित करने का फैसला..

रानीखेत में जहाँ पानी की समस्या ने सभी ग्रामीणों को आंदोलनकारी बनने के लिए मजबूर कर दिया पिछले 1 सप्ताह से ताड़ीखेत रानीखेत में पेयजल की समस्या को लेकर अनशन चल रहा है वहीँ खबर आ रही है कि अब ग्रामीणो ने संयुक्त मजिस्ट्रेट के आश्वासन के बाद अनशन को स्थगित करने का फैसला लिया है ।

सोमवार को किया गया आंदोलन स्थगित …

संयुक्त मजिस्ट्रेट अपूर्वा पांडेय के आश्वासन के बाद ताड़ीखेत के ग्रामीणों का पेयजल समस्या को लेकर एक सप्ताह से चल रहा क्रमिक अनशन सोमवार को स्थगित हो गया।

बढ़ते कोरोना संक्रमण का हवाला देते हुए आंदोलन समाप्त करने का आग्रह किया गया ।।

संयुक्त मजिस्ट्रेट व् अन्य जल संस्थान कर्मचारी टीम ने बढ़ती कोरोना महामारी के मद्देनजर आंदोलन समाप्त करने का आग्रह ग्रामीणों से किया। साथ ही ग्रामीणों की पेयजल संबंधी प्रमुख समस्याओं का भी उन्होंने जल्द निराकरण कराने का अश्वासन दिया।

ग्रामीणों ने समस्या का समाधान न् होने पर फिर से आंदोलन करने की दी चेतावनी..

ग्रामीणों ने जहाँ संयुक्त मजिस्ट्रेट के भरोसे और कोरोना महामारी के बढ़ते संक्रमण की बात को समझते हुए आंदोलन स्थगित किया तो वही ग्रामीणों ने कहा कि यदि समस्याओं का जल्द समाधान नहीं हुआ तो वह फिर से आंदोलन करेंगे की चेतावनी दी ।
जल संस्थान ने ग्रामीणों की मुख्य मांगों को जल जीवन मिशन के तहत पूरा करने का लिखित आश्वासन भी दिया। इसके बाद ग्रामीणों द्वारा आंदोलन स्थगित कर दिया गया ।

वार्ता में इतने लोग रहे शामिल..

वार्ता में गोपाल सिंह अधिकारी, डूंगर सिंह रावत, रमेश जोशी, दीवान सिंह बिष्ट, मनोज पांडे, मंजीत भगत, दीपक जोशी, मनोज रावत, रेखा भट्ट, दीपा जोशी सहित तमाम ग्रामीण आदि उपस्थित थे ।