October 22, 2021

आज कुलपति की अध्यक्षता में कुमाऊँ विश्वविद्यालय की परीक्षा समिति की आनलाईन और व्यक्तिगत माध्यम से हुई आपात बैठक।

 77 total views,  2 views today

कोरोना संक्रमण का खतरा पूरे देश में बढ़ने लगा है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के बाद हालात खराब होने लगे हैं। वही उत्तराखण्ड में भी कोरोना संक्रमण के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं। हर दिन नए कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। वही कोरोना महामारी के बीच कुमाऊँ विश्वविद्यालय ने सेमेस्टर परीक्षाएं आयोजित कराई थी, जिसमें छात्रों ने कुछ परीक्षाएं दे दी है, वही कुछ परीक्षाएं होनी बाकी है, जिन्हें फिलहाल स्थगित कर दिया गया है।

आज कुलपति की अध्यक्षता में कुमाऊँ विश्वविद्यालय की परीक्षा समिति की आनलाईन और व्यक्तिगत माध्यम से हुई बैठक-

आज दिंनाक 16-04-2021 को विवि प्रशासनिक भवन में कुलपति प्रो एनके जोशी की अध्यक्षता में परीक्षा समिति की ऑनलाइन आपात बैठक हुई। जिसमें आनलाईन और व्यक्तिगत माध्यम से बैठक सम्पादित कराई गई।

कोविड संक्रमण के चलते लिया निर्णय-

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण में तेजी से उछाल आने लगा है। जिसके चलते सरकार ने कोरोना संक्रमण को कम करने के लिए सख़्त निर्देश जारी किए हैं। वही छात्रों के भविष्य को रखते हुए भी कुमाऊँ विश्वविद्यालय ने परीक्षाएं स्थगित करने का निर्णय लिया है।

सामान्य स्थिति होने के बाद सम सेमेस्टर की परीक्षाएं होंगी सम्पादित-

कोरोना संक्रमण के चलते छात्रों की परीक्षाएं स्थगित कराई गयी है। जिसके बाद सामान्य परिस्थिति होने के बाद सम सेमेस्टर की परीक्षाएं सम्पादित कराई जाएंगी। वही विश्वविद्यालय द्वारा ऐसे छात्रों का डेटा 18-04-2021 तक उपलब्ध करा दिया जाएगा।

डीएसबी परिसर में हाॅस्टल के छात्रों और विवि प्रशासनिक भवन के कतिपय कर्मचारियों में हुई कोरोना संक्रमण की पुष्टि-

कोविड के बढ़ते संक्रमण व डीएसबी परिसर के हॉस्टल के छात्रों और विवि प्रशासनिक भवन के कतिपय कर्मचारियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई।

कुमाऊं विवि ने सेमेस्टर परीक्षाओं के साथ ही 22 मई से प्रस्तावित वार्षिक पद्धति की परीक्षाओं को अग्रिम आदेश तक किया स्थगित-

कोरोना संक्रमण पूरे देश में तेजी से फैल रहा है, जिससे स्थिति दयनीय हो रही है। वही डीएसबी परिसर में भी छात्रों और कर्मचारियों को कोरोना होने के बाद कुमाऊं विश्वविद्यालय ने सेमेस्टर परीक्षाओं के साथ ही 22 मई से प्रस्तावित वार्षिक पद्धति की परीक्षाओं को अग्रिम आदेश तक स्थगित कर दिया है।

कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे के चलते सेमेस्टर की परीक्षाएं हुई स्थगित-

कोरोना संक्रमण का खतरा तेजी से बढ़ रहा है। जिससे विश्वविद्यालय में भी कोरोना संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है। जिसके चलते स्नातक में प्रथम, तृतीय व पंचम तथा स्नातकोत्तर में प्रथम व तृतीय सेमेस्टर की परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं।

सोमवार से आनलाईन होगी छात्रों की पढ़ाई-

कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के चलते छात्रों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए सोमवार से छात्रों की पढ़ाई ऑनलाइन शुरू करने का निर्णय लिया गया है।

छात्रों की अगले सेमेस्टर की पढ़ाई भी होगी आनलाईन-

कोरोना संक्रमण के चलते छात्रों को घर में रहकर ही आनलाईन पढ़ाई करनी होगी। वही छात्रों की पढ़ाई बाधित ना हो, ऐसे में उनके अगले सेमेस्टर की पढ़ाई सोमवार से ऑनलाइन शुरू होगी। इसी के साथ जो छात्र अगले सेमेस्टर की पढ़ाई कर्रेंगे, वह ऑटो प्रमोट नहीं किये जाएंगे। उन्हें बाद में परीक्षा में शामिल होना अनिवार्य होगा।

छात्र प्रतिनिधियों ने भी की थी मांग-

कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के बाद छात्र प्रतिनिधियों ने भी परीक्षाओं को स्थगित करने की मांग की थी।

आज हुई व्यक्तिगत बैठक में परीक्षा नियंत्रक प्रो एचसीएस बिष्ट, प्रो. एल. एम. जोशी निदेशक डीएसबी परिसर नैनीताल, निदेशक, प्रो एन. के.जोशी, कुलपति कुमाऊँ विश्वविद्यालय नैनीताल ( अध्यक्ष), कुलसचिव दिनेश चंद्र आदि उपस्थित थे।
वही आनलाईन माध्यम से अतुल जोशी, विभागाध्यक्ष एंव संकायाध्यक्ष  वाणिज्य, डीएसबी परिसर, प्रो. पी. सी. कविदयाल, निदेशक तकनीकी परिसर भीमताल,  प्रो. अमित पंत, प्रो. आर. के. पाण्डेय, प्रो. अर्चना नेगी शाह आदि लोग मौजूद रहे।