October 22, 2021

उत्तराखंड: मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने लिया निर्णय, कहा कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते अब शराब की दुकानें 2 बजे की जाएंगी बंद।

 86 total views,  2 views today

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण में तेजी से बढ़ोत्तरी हो रही है। जिससे हालात चिंताजनक है। पूरे देश भर में कोरोना का कहर जारी है। उत्तराखंड में भी हर रोज रिकॉर्ड तोड़ कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। जिससे तेजी से संक्रमित मरीजों का ग्राफ बढ़ रहा है। जिस पर आज उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने आज सभी जनपदों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिग करके कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिये हो रहे कार्यों की समीक्षा की। 

मुख़्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिये सभी जनपदों के जिलाधिकारियों के साथ की बैठक-

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सभी जनपदों के जिलाधिकारियों के साथ विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को कम करने व उनके रोकथाम के लिये हो रहे कार्यों की समीक्षा की। 

कोविड नियमों का सख़्ती से कराया जाए पालन-

उत्तराखंड में तेजी से कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा बढ़ रहा है। जिसके चलते मुख़्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि सभी लोगों द्वारा कोविड नियमों का सख़्ती से पालन कराया जाए। वही मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कोविड नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख़्त कार्यवाही की जाए।

अस्पतालों में किसी चीज की न हो कमी-

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कोविड केयर सेंटरों में पर्याप्त दवाएं, आक्सीजन की व्यवस्था करने और आईसीयू बेड बढ़ाने के निर्देश दिए और कहा कि दवाओं की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए।

शराब की दुकानें भी अब 2 बजे होंगी बंद-

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने यह निर्णय भी लिया कि अब शराब की दुकानें भी 2 बजे बंद की जाएंगी। अब शराब की दुकानें 7 बजे की जगह  दिन मे 2 बजे अन्य दुकानों की तरह ही बंद होंगी। बैठक मे यह भी कहा गया कि शराब की दुकानें देर से खुले रहने से लोग बेवजह बाहर घूमते है। जिससे कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा अधिक रहता है। जिसके चलते मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने यह निर्णय लिया कि अब शराब की दुकानें भी 2 बजे ही बंद की जाएंगी।

बाहर राज्यों से आने वाले लोगों की चैकिंग करने के साथ सैम्पलिंग करने के दिए निर्देश-

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि हर जिले में कोविड केयर सेंटरों को मजबूत किया जाए। वही राज्य व जनपदों की सीमाओं पर पूरी गम्भीरता से चैकिंग करने के साथ लोगों की सैम्पलिंग करने के भी निर्देश दिए। वही प्रदेश में आने वाले दूसरे राज्यों के लोगों को आरटीपीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट तथा पंजीकरण के बिना अनुमति नहीं दी जाए और घर लौट रहे प्रवासियों को अनिवार्य रूप से होम क्वारंटीन कराया जाए।

1 मई से कोरोना टीकाकरण का नया चरण शुरू-

1 मई से 18 साल से अधिक वालों को निशुल्क कोरोना वैक़्सीन लगाई जाएगी। जिस पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि वैक़्सीन अभियान के तहत सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए।