October 23, 2021

उत्तराखंड टॉप 10 न्यूज़…

 436 total views,  2 views today

० प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या पहुंची 162562. आज शाम 5:30 बजे तक प्रदेश में कोरोना के 5703 और नये मामले सामने आये।

० प्रदेश में आज 601 केंद्रों पर 39 हजार 180 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। साथ ही अभी तक कुल 364764 लोगों को दूसरी डोज लगी।

० कुम्भ का अंतिम शाही स्नान होते ही हरिद्धार में 3 मई तक लगा कोविड कर्फ्यू..

० चमोली में सुमना आपदा के चलते 4 शव किये गए बरामद अब तक कुल मृतकों की संख्या हुई 15 सेना द्वारा रेस्क्यू जारी ।

० अल्मोड़ा जिला मजिस्ट्रेट नितिन सिंह भदौरिया द्वारा कोविड 19 का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिए गए और कहा गया कि विवाह समारोह में केवल 50 लोग ही उपस्थित हो सकते हैं और साथ ही कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप के चलते अब समारोह में डीजे नहीं लगाया जाएगा। अब शादी समारोह व आयोजनों में डीजे का प्रयोग पूरी तरह प्रतिबंधित किया गया है।

० अल्मोड़ा में आज कोरोना के 204 नए मामले आये और कोरोना से आज 1 युवक और 2 महिलाओं की हुई मृत्यु ।

०उत्तराखंड कोरोना संकट की इस घड़ी में दिल्ली, यूपी, पंजाब और हरियाणा को ऑक्सीजन की आपूर्ति कर रहा है। राज्य के 12 प्लांटों में प्रतिदिन कुल 375 मिट्रिक टन के करीब ऑक्सीजन उत्पादन हो रहा है जिसमें से तकरीबन 272 मिट्रिक टन ऑक्सीजन चारों राज्यों को दी जा रही है।

० उत्तराखंड के जोशीमठ में गत 23 अप्रैल को ग्लेशियर टूटने से बड़ा हादसा में झारखंड के 11 मजदूरों की मौत हो गई । ये मजदूर सीमा सड़क संगठन बीआरओ में काम कर रहे थे बीआरओ ने अभी तक मृत श्रमिकों के शव को झारखंड भेजने के लिए शुरुवात न् करने से नाराज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर संबंधित अधिकारी को आदेश देने का आग्रह किया है और साथ ही सीएम ने फोन पर भी रक्षा मंत्री से इस विषय पर बात की ।

० मौसम विभाग ने 28, 29 और 30 अप्रैल के लिए उत्तराखंड के पर्वतीय जिलों के लिए बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार, उत्तरकाशी, चमोली, देहरादून, नैनीताल, पिथौरागढ़, टिहरी, बागेश्वर, अल्मोड़ा और नैनीताल में बारिश-बर्फबारी के साथ आकाशी बिजली की आशंका जताई गई है ।

०संत सेवा आश्रम लक्ष्मणझूला के महंत गोविंद दास महाराज का मंगलवार को बीमारी के बाद ब्रह्मलीन हो गए। संत समाज ने उनके निधन को अपूरणीय क्षति बताया है। श्रीराम तपस्थली परम पुरी के महामंडलेश्वर स्वामी दयाराम दास महाराज ने बताया कि संत सेवा आश्रम के महंत गोविंद दास महाराज (65 वर्ष) पिछले कुछ दिनों से अस्वस्थ चल रहे थे।