August 11, 2022

अल्मोड़ा: मेधावी छात्रों/महिलाओं एवं युवाओं के सम्मान से समाज को नई दिशा देने का प्रयास कर रहे पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक

 637 total views,  4 views today

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता/पूर्व दर्जा मंत्री बिट्टू कर्नाटक द्वारा मंगलवार को  विकास खण्ड हवालबाग के ग्राम सभा रौनडाल में एक सम्मान समारोह आयोजित किया गया । कार्यक्रम में 80 मेधावी छात्रों/महिलाओं तथा युवाओं द्वारा प्रतिभाग किया गया । श्री कर्नाटक द्वारा सभी सम्मानित आगन्तुकों का स्वागत अभिनन्दन किया गया । कार्यक्रम का शुभारम्भ करते हुये सर्वप्रथम मेधावी छात्र /छात्राओं को अंगवस्त्र,प्रतीक चिन्ह एवं मेडल से सम्मानित किया गया ।

अच्छे अंक प्राप्त कर अपने गुरूओं तथा अपने माता पिता के गौरव को बढाया है

उन्होंने विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि विद्यार्थियों ने कोरोना जैसी महामारी में विषम परिस्थितियों में आन-लाईन पढाई कर बोर्ड परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त कर अपने गुरूओं तथा अपने माता पिता के गौरव को बढाया है । विद्यार्थियों ने मेहनत कर सफलता अर्जित करने में कडी मेहनत की है और लगन ,कठोर परिश्रम तथा शिक्षकों के उचित मार्गदर्शन से उन्हें सफलता प्राप्त हुयी । उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों में लक्ष्य प्राप्ति के लिये स्वयं पर विश्वास होना भी जरूरी है। लक्ष्य प्राप्ति और सफलता के लिये निरन्तर मेहनत और एकाग्रता,आत्मविश्वास बेहद जरूरी है । उन्होंने छात्र/छात्राओं को प्रेरित करते हुये कहा कि एकाग्रचित्त होकर लक्ष्य निर्धारण के साथ पढें तो आपको हर काम पर सफलता मिलेगी और चरित्रवान बनकर आप समाज में एक अच्छा मुकान हासिल कर पायेंगे ।

महिलायें/वृद्वजन समाज का आईना हैं

           तद्पश्चात श्री कर्नाटक द्वारा ग्राम सभा रौनडाल व आस-पास क्षेत्र से कार्यक्रम में उपस्थित हुई महिलाओं/सम्मानित वृद्वजनों को अंगवस्त्र भेंट करते हुये उनका सम्मान किया और कहा कि महिलायें/वृद्वजन समाज का आईना हैं वे समाज को नयी दिशा देने व अपने पारिवारिक सदस्यों,क्षेत्रवासियों को अच्छे मार्ग पर चलकर चरित्रवान बनने का मार्ग दिखाते हैं । उनकी छत्र-छाया में ही आदर्श समाज का निर्माण होता है जिसमें उनकी अहम भूमिका होती है । आज महिलायें पुरूषों के समान कंधे से कंधा मिलाकर प्रत्येक क्षेत्र में अहम भागीदारी कर रही हैं जिससे समाज व देश हित में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता । 

उत्तराखण्ड के पर्वतीय जनपदों के गांव -गांव में नशा रूपी दानव अपने पैर फैला रहा है

             कार्यक्रम को आगे बढाते हुये श्री कर्नाटक ने गठित की गयी टीमों की बालिकाअेां और युवाओं को बैटमिन्टन किट व वालीवाल किट उपलब्ध कराते हुये अपने संवाद में कहा कि उत्तराखण्ड के पर्वतीय जनपदों के गांव -गांव में नशा रूपी दानव अपने पैर फैला रहा है । नशे के दुष्परिणामस्वरूप युवा मानसिक रूप से अस्वस्थ्य होकर कई बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं । युवाओं को नशे /तनाव से दूर करने तथा भटकाव के मार्ग में जाने से बचाने के लिये उनके द्वारा उन्हें विभिन्न शारीरिक दक्षता के खेलों से जोडने की मुहिम लगातार चलायी जा रही है । गांव चलो प्रतिभा तलाशो,खेल खेलो,स्वस्थ्य रहो के अन्तर्गत उनके द्वारा क्रिकेट /वालीबाल,बैटमिन्टन किट आदि का वितरण किया जा रहा है ।  

नशे  रूपी दानव से दूर रहने व समाज को भी बचाने का आह्वान किया

           उन्होंने युवाओं /बालिकाओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि उन्हें शारीरिक दक्षता के खेलों में लगातार प्रतिभाग करना चाहिये ताकि व्यायाम,खेलकूद,मनोरंजन के द्वारा वे अपने शरीर को तंदुरूस्त एवं स्वस्थ बना सकें । जिससे वे कुसंगति से बच कर अच्छे चरित्र का निर्माण कर आत्मविश्वास से सामाजिक कार्यो में बढ़़-चढ़ कर भागीदारी करने के साथ ही अपने परिवार की देखभाल कर अपने मात-पिता के गौरव को बढा सकें । श्री कर्नाटक ने    पुनः जोर देते हुये नशे रूपी दानव से दूर रहने व समाज को भी बचाने का आह्वान किया ।

यह लोग रहे उपस्थित

              इस अवसर पर मुख्य रूप से ग्राम प्रधान निर्मल कुमार,उपप्रधान प्रकाश चौहान,किशन,त्रिलोक चौहान , सोनू चौहान ,करन बिष्ट,सतीश कुमार,विनोदसिंह,कमल बिष्ट,गोबिन्द कुमार,महेन्द्र कुमार,नीरज कुमार, भरत भूषण,हेमचन्द्र जोशी, देबेन्द्र प्रसाद कर्नाटक,रोहित शैली, धीरज बिष्ट,प्रकाश मेहता,बन्दना जोशी,रश्मि काण्डपाल,दिव्या पाटनी, किरन कोरंगा,हर्षिता तिवारी आदि उपस्थित थे । कार्यक्रम का संचालन चित्रा खाती द्वारा किया गया ।