February 3, 2023

Khabribox

Aawaj Aap Ki

अल्मोड़ा: डॉक विभाग अल्मोड़ा के अन्तर्गत कार्यरत 328 डॉकघरों में विधिक सहायता केन्द्र होंगे स्थापित, यह कर सकते हैं आवेदन

 3,164 total views,  2 views today

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रवि शंकर मिश्रा ने बताया कि माननीय उत्तराखण्ड राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण नैनीताल के निर्देश के अनुपालन एवं माननीय जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अल्मोड़ा के मार्गदर्शन में डॉक विभाग अल्मोड़ा के अन्तर्गत कार्यरत 328 डॉकघरों में विधिक सहायता केन्द्र स्थापित किये जा रहे है।

विधिक सहायता हेतु दे सकते हैं आवेदन-

सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रवि शंकर मिश्रा ने बताया कि इन डॉकघरों से वे व्यक्ति जो निःशुल्क विधिक सहायता के पात्र हैं, विधिक सहायता हेतु आवेदन दे सकते हैं। इस उद्देश्य के लिए तथा डॉकघर कर्मियों को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्य व लोगों को विधिक सहायता हेतु आवेदन करने के लिए जागरुक करने के सम्बन्ध में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम राजकीय आदर्श बालिका इण्टर कॉलेज रानीखेत, अल्मोड़ा में आयोजित किया गया।

योजना के बारे में किया जागरुक-
           
इस अवसर पर सहायक डॉकघर अधीक्षक रानीखेत व डॉकघर के कर्मचारी उपस्थित रहे। प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्य व विधिक सहायता हेतु लोगों को जागरुक करने के सम्बन्ध में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उपस्थित लोगों को बताया गया तथा मोबाइल लीगल एड सर्विस एप के बारे में डाटा इंट्री ऑपरेटर मोहन सिंह मेहरा द्वारा जरिये प्रोजेक्टर उपस्थित लोगों को समझाया गया तथा उपस्थित लोगों को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के नम्बर भी नोट कराये गये कि कोई समस्या होने पर उक्त नम्बर पर सम्पर्क कर सकते हैं। प्रशिक्षण कार्यक्रम में लगभग 250 डॉककर्मी द्वारा प्रतिभाग किया गया। पैन इंडिया आउटरीच कैंपन व आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण अल्मोड़ा द्वारा आज विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर जनपद के विभिन्न स्थानों में लोगों को जागरुक करने जागरुकता अभियान/ शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें चिकित्सा विभाग से डाक्टर व पराविधिक कार्यकर्ताओं द्वारा प्रतिभाग किया गया और लोगों को मानसिक दिव्यांग व बीमार व्यक्तियों के लिए राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण के द्वारा विधिक सहायता हेतु बनायी गयी योजना के बारे में जागरुक किया गया।