October 4, 2022

अल्मोड़ा: मेडीकल कॉलेज में महज ₹ 200 का उपकरण नहीं होने से एक साल से ऑपरेशन ठप

 598 total views,  2 views today

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में उपकरणों का टोटा बवासीर के मरीजों पर भारी पड़ रहा है। महज 200 रुपये का उपकरण नहीं होने के चलते एक साल से बवासीर के ऑपरेशन ठप पड़े हैं। इस कारण रोजाना मेडिकल कॉलेज में बवासीर की जांच कराने को पहुंच रहे मरीजों को हायर सेंटर रेफर करना पड़ रहा है। मेडिकल कॉलेज के विशेषज्ञ चिकित्सकों का कहना है कि उपकरण नहीं होने के कारण बवासीर की जांच भी नहीं हो पा रही हैं।

संसाधनों की कमी के चलते मरीजों को करना पड़ रहा है परेशानियों का सामना

अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज को जनवरी माह में एनएमसी की मान्यता मिली थी। जिसके बाद पर्वतीय जनता को यहां उचित स्वास्थ्य सुविधाओं के मिलने की उम्मीद जग गई थी। लेकिन यहां कभी विशेषज्ञ चिकित्सकों की कमी तो कभी संसाधनों के टोटा होने के कारण मरीजों को अब भी परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है।

उपकरण नहीं होने से नहीं हो पा रही है बावासीर की जांच

आलम यह है कि महज ₹200 रूपये का उपकरण नहीं होने से अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज में एक साल से अस्पताल में पहुंच रहे मरीजों के बवासीर की जांच नहीं हो पा रही है। जिससे मरीजों को हायर सेंटर रेफर किया जा रहा है। साल भर में केवल कुछ आपातकालीन सर्जरी की गई हैं।

उपकरण की उपलब्धता के लिए चल रही है टैंडर प्रक्रिया

डॉ. सीपी भैसोड़ा, प्राचार्य मेडिकल कॉलेज अल्मोड़ा ने बताया कि करीब सभी उपकरण उपलब्ध है, जो उपकरण उपलब्ध नहीं है, उनकी उपलब्धता के लिए टैंडर प्रक्रिया चल रही है।