May 22, 2022

अल्मोड़ा: विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े उद्यमियों के लिए एक दिवसीय अभिमुखीकरण कार्यशाला का आयोजन किया गया

 1,494 total views,  2 views today

जनपद में विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े उद्यमियों के लिए एक दिवसीय अभिमुखीकरण कार्यशाला विकास भवन में आयोजित हुई। जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लघु उद्यमियों ने प्रतिभाग किया। इस कार्यशाला का उद्देश्य उद्यमियों को हवालबाग में बन रहे इन्क्युवेशन सेन्टर के सम्बन्ध में जानकारी व सेन्टर से प्राप्त होने वाले व्यवसायिक लाभ के विषय में जानकारी प्रदान करना था।
कार्यशाला में प्रतिभाग करते हुए जिलाधिकारी वन्दना सिंह ने विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े उद्यमियों द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में पूछा साथ ही उनके द्वारा बनाये जा रहे उत्पादों व किये जा रहे क्रिया-कलापों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी ली।

उद्यमियों को तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करने की जरूरत

जिलाधिकारी ने कहा कि उद्यमियों को प्राथमिकता के आधार पर मार्केट उपलब्ध कराया जाना व उनके उत्पादों में नये प्रयोग कर उत्पादों को और आकर्षक बनाने के लिए उन्हें तकनीकी प्रशिक्षण प्रदान करने की जरूरत है। उन्होंने आजीविका परियोजना, उद्योग व एनआरएलएम के अधिकारियों को विशेष ट्रेर्निंग कार्यक्रम के अन्तर्गत इन उद्यमियों को प्रशिक्षण दिलाने के निर्देश दिये साथ ही उत्पादों की पैकेजिंग उनका डिजाइन आदि को बेहतर बनाने का सुझाव दिया। इस दौरान कई स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं ने भी अपने-अपने उत्पाद के बारे में जानकारी दी और जिला प्रशासन व विकास विभाग से सहयोग की अपेक्षा की।

हवालबाग में की जा रही रूरल बिजनेस इन्क्यूवेशन सेन्टर की स्थापना

जिलाधिकारी ने बताया कि हवालबाग में रूरल बिजनेस इन्क्यूवेशन सेन्टर की स्थापना की जा रही है जो जल्द ही बनकर तैयार हो जायेगा जिसमें उद्यमियों को नेटवर्किंग, व्यवसायिक संसाधनों तक पहुॅच, फाइनेंस की जानकारी व व्यापार पर फोकस बनाये रखने के लिए जरूरी संरचना आदि की जानकारी प्रदान की जायेगी। उन्होंने बताया कि यह सेन्टर प्रबन्धन प्रशिक्षण एवं सलाहकार सेवायें, समय और पैसे की बचत व विपणन के लिए सहयोग आदि के बारे में उद्यमियों को सहायता करेगा। इस दौरान कई उद्यमियों के उत्पादों से प्रभावित होकर जिलाधिकारी ने कहा कि अच्छे उत्पादों की प्रदर्शनी प्रगति मैदान दिल्ली में लगायी जाय जिससे ऐसे उत्पादों की मार्केटिंग हो सके। उन्होंने सभी उद्यमियों को हर सम्भव सहयोग हेतु आश्वासन दिया। इस कार्यशाला में इन्क्यूवेशन सेन्टर के अधिकारियों द्वारा इसके सम्बन्ध में विस्तृत जानकारी उपस्थित उद्यमियों को दी गयी। इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे के अलावा विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े उद्यमी व विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।