December 5, 2022

अल्मोड़ा: UPWWA के तत्वाधान में पुलिस परिवार की महिलाएं भी हो रही हैं आत्मनिर्भर, ऐपण गर्ल के नाम से जाना जाने लगा पुलिस परिवार की बालिका मीनाक्षी को

 3,554 total views,  2 views today

उत्तराखण्ड पुलिस वाईव्ज वेलफेयर एसोशिएशन की अध्यक्ष महोदया डॉ0 अलकनन्दा अशोक द्वारा पुलिस परिवार की महिलाओं का विशेष ख्याल रखकर उनको आत्मनिर्भर बनाने की भी पहल की जा रही है। अध्यक्ष महोदया के मार्गदर्शन एवं जिलाध्यक्ष UPWWA अल्मोड़ा श्रीमती हेमा बिष्ट के निर्देशन में अल्मोड़ा पुलिस परिवार के बच्चों एवं महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से कई प्रशिक्षण प्रदान कराये जा रहे है, जिसमें सिलाई, मास्क बनाना, ब्यूटी पार्लर रंगोली, ऐपण आदि। आत्मनिर्भर बनने की इस पहल से पुलिस परिवार की महिलाऐं एवं बच्चे आगे आ रहे है।

ऐपण को ही स्वरोजगार का साधन बना लिया

इनसे में एक नाम है मीनाक्षी आगरी का जो पुलिस परिवार से है, मीनाक्षी ने UPWWA की अध्यक्ष महोदया डॉ0 अलकनंदा अशोक के स्वरोजगार कार्यक्रम से प्रभावित होकर ऐपण को ही स्वरोजगार का साधन बना लिया, इनके द्वारा महाकुंभ में 400 से अधिक गागरो को ऐपन कला से सजा कर अल्मोड़ा पुलिस की एक अलग छाप छोड़ी है।  मीनाक्षी द्वारा ऐपण के माध्यम से बनाये गये नेम प्लेटों के आम जन के साथ साथ पुलिस के आला अधिकारी भी कायल है। इसके अतिरिक्त मीनाक्षी द्वारा बनाये गये गणेश व लक्ष्मी चौकी कुशन कवर को लोगों द्वारा बेहद पसन्द किया जा रहा है, तथा लोग दूर दूर से आर्डर भी करने लगे है।

UPWWA की इस सराहनीय पहल की प्रशंसा कर धन्यवाद दिया

मीनाक्षी आगरी ने UPWWA की इस सराहनीय पहल की प्रशंसा कर धन्यवाद देते हुए कहा कि UPWWA ने मेरे हुनर को तराश कर मुझे एक पहचान दिलाई तथा स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया अब मेरे पास कई आर्डर आने लगे हैं जिसका मुझे मेहनताना भी मिल रहा है जिससे मैं आत्मनिर्भर होकर मेरी आर्थिक स्थिति मजबूत हो रही है तथा मैं अन्य महिलाओं को भी स्वरोजगार से जोड़ने हेतु प्रेरित करूंगी।

You may have missed