October 17, 2021

अल्मोड़ा: अवैध शराब के विरोध पर ग्रामीणों ने निकाला जूलूस, प्रशासन से बिक्री पर रोक लगाने की उठाई मांग

 3,138 total views,  2 views today


अल्मोड़ा जिले से जुड़ी खबर सामने आई है। अल्मोड़ा के शीतलाखेत क्षेत्र में अवैध शराब के विरोध पर ग्रामीणों ने हल्ला बोल दिया है। जिस पर आज एकता संगठन के बैनर तले हवालबाग और ताड़ीखेत विकासखंड के दर्जनों ग्राम पंचायतो के लोगों ने शीतलाखेत से कठपुठिया तक विरोध जुलूस निकाला। जिसमें स्याहीदेवी, शीतलाखेत, सल्ला रौतेला, नौला, सड़का, बेड़गांव, धामस, खूंट, मटीला, मटीलाधूरा, खरकिया, डोलपोखरा, चम्पा, बडगल रौतेला, देवलीखान, कफलकोट सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों से पहुंचे ग्रामीणें ने जमकर प्रदर्शन किया।

अवैध शराब बिक्री पर रोक लगाने की मांग-

जिसमें ग्रामीणों ने क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री पर रोक लगाने की मांग उठाई। इस दौरान बड़ी संख्या में इस जुलूस में महिलाएं भी मौजूद रही। शीतलाखेत में मंगलवार को तिखून पट्टी और कंडारखोवा पट्टी के ग्रामीणों ने जमा होकर पुलिस प्रशासन और अवैध शराब कारोबारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। शीतलाखेत बाजार में जमकर प्रदर्शन किया।

ग्रामीणों ने किया सभा का आयोजन-

इस दौरान कठपुड़िया में ग्रामीणों ने सभा का आयोजन किया। ग्रामीणों ने कहा कि शीतलाखेत और स्याही देवी क्षेत्र के आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों के गांव-गांव में अवैध शराब बिक्र रही रही है। जिससे गांव-घरों में माहौल खराब हो रहा है। इस वजह से युवा और छोटे बच्चे भी नशे की लत के शिकार हो रहे हैं। जिससे चिंता और बढ़ गई है।

आगे से अवैध शराब बिक्री होने पर होगा उग्र आंदोलन-

जिसमें ग्रामीणों ने शराब व्यापारियों को को अवैध कारोबार को बंद करने की अंतिम चेतावनी दी। जिसमें एकता संगठन के पदाधिकारियों ने कहा कि आगे से अवैध शराब की बिक्री हुई तो उनके द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा। जिसमें जगह जगह पोस्टर चिपकाया जायेगा।

इस दौरान यह लोग रहे मौजूद-

इस दौरान कता संगठन के अध्यक्ष मुकेष सिंह रौतेला, उपाध्यक्ष राजेंद्र सिंह बिष्ट, उप सचिव महेंद्र सिंह, कोषाध्यक्ष कमलेष सिंह बिष्ट, ग्राम एकता महिला संगठन अध्यक्ष दीपा जीना, ग्राम प्रधान बडगल रौतेला हेमा बिष्ट, ग्राम प्रधान मटीला कामाक्षी बिष्ट, रूपा देवी, इंद्रा देवी, माया देवी, लीला देवी, पुष्पा देवी, माया देवी, सुनीता बिष्ट, मुन्नी देवी, पदमा देवी, भगवती देवी, चंद्रा देवी, देवकी देवी, भगवती देवी, शोभा देवी, कमला देवी, बिमला देवी, कमला देवी, गीता देवी, दीपा देवी, पुष्पा देवी, शीला देवी, रेखा देवी, देवकी देवी, गुड्डी देवी, प्रियंका, रेखा देवी, हंसी देवी, कांति देवी, शिखा देवी, कमला बिष्ट, अंजली ग्वाल, भावना ग्वाल, मीना बनोला, जया गोस्वाी, अनीता ग्वाल, निकिता आर्या, चंद्रा देवी, अनीता बिष्ट, सोनिया बिष्ट, नीमा बिष्ट, भावना बिष्ट, हेमा बिष्ट, पूजा बिष्ट, नीमा बिष्ट, शांति देवी, कमला  बिष्ट, नीमा बिष्ट, आशा देवी, कवीता बिष्ट, सुधा जीना समेत सैड़ाकों ग्रामीण मौजूद रहे।