December 1, 2021

बागेश्वर: स्वरोजगार योजनाओं के लिए 56 लाभार्थियों को वितरित किए 97 लाख 06 हजार ऋण के चैक

 3,442 total views,  2 views today

बागेश्वर जनपद के बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए जिला प्रशासन की ओर से स्वरोजगार से जुड़े विभागों एवं बैंकर्स के संयुक्त तत्वाधान में विकास भवन सभागार में स्वरोजगार ऋण वितरण शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि मा0 मंत्री, महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास, पशुपालन, दुग्ध विकास एवं मत्स्य पालन उत्तराखण्ड सरकार एवं प्रभारी मंत्री जनपद बागेश्वर रेखा आर्या की अध्यक्षता में स्वरोजगार शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें विभिन्न विभागों द्वारा संचालित स्वरोजगार योजनाओं के लिए 56 लाभार्थियों को 97 लाख 06 हजार ऋण के चैक वितरित किये गये।

प्रदेश की युवाओं एवं महिलाओं को बनाए सशक्त-

इस अवसर पर प्रभारी मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री की मनसा है कि प्रदेश की युवाओं एवं महिलाओं को सशक्त बनाने तथा आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से सरकार द्वारा विभिन्न विभागों द्वारा संचालित स्वरोजगार योजनाओं के लिए ऋण वितरित कराने के उद्देश्य से विशेष शिविरों का आयोजन किया जा रहा है, जिसका मुख्य उद्देश्य है कि बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ना है ताकि वह आत्मनिर्भर हो सके। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण अपने जनपदों को लौटे प्रवासी युवाओं को अपना रोजगार शुरू कराने के लिए सरकार द्वारा कर्इ महत्वकांक्षी योजनायें संचालित की गयी है जिसमें अधिक से अधिक युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराना है। इस दिशा में विभिन्न विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के लिए बैंकों द्वारा जो ऋण उपलब्ध कराया जाता है इसको सरल बनाने के उद्देश्य से तथा ऋण ले रहे आवेदकों को किसी तरह की कोई परेशानी न हो इसके मद्देनजर सरकार द्वारा प्रदेश में विशेष स्वरोजगार शिविर आयोजित कर पात्र व्यक्तियों को शिविर के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होनें सभी बैंक प्रबन्धकों से अपेक्षा की है कि स्वरोजगार से संबंधित ऋण हेतु जो भी आवेदन प्राप्त होते है उन आवेदनों पर सभी बैंक तत्परता से कार्य करते हुए अधिक से अधिक लाभार्थियों को लाभान्वित कराना सुनिश्चित करें ताकि वह अपना व्यवसाय शुरू कर सके। उन्होंने कहा कि जिन बैंकों द्वारा लोगों को ऋण वितरित कराने में अपनी अहम भूमिका निभार्इ है इसके लिए सभी बैंक बधार्इ के पात्र है।

अधिक से अधिक बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ने का लक्ष्य-

इस अवसर पर अध्यक्ष जिला पंचायत बसंती देव ने कहा कि सरकार की मनसा है कि अधिक से अधिक बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ना है जो उद्देश्य सफल हो रहा है। उन्होंने सभी लाभार्थियों से कहा कि जिस व्यवसाय के लिये वह ऋण ले रहे है उसी दिशा में बेहतर ढंग से कार्य करें।

बैंकों के माध्यम से लगाए जा रहे हैं ऋण वितरण शिविर-

इस अवसर पर विधायक बागेश्वर चन्दन राम दास ने कहा कि सरकार का उद्देश्य है कि बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार के लिए ऋण मुहैया कराने के उद्देश्य से विभिन्न बैंकों के माध्यम से ऋण वितरण शिविर लगाये जा रहे है जिसमें सभी बैंकों का पूर्ण सहयोग मिल रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार का उद्देश्य है कि किसी लाभाथ्र्ाी को किसी प्रकार की परेशानी न हो तथा बार-बार संबंधित कार्यालय एवं बैंकों के चक्कर न लगाने पड़े इस उद्देश्य से शिविर आयोजित कर बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध करा रहा है। उन्होंने सभी लाभार्थियों से कहा कि जिस रोजगार के लिए ऋण ले रहे है उस रोजगार को जल्द से जल्द शुरू करें, तथा इस दिशा में ठीक तरह से कार्य कर ताकि उन्हें किसी तरह से नुकसान न हो।
इस अवसर पर जिलाधिकारी विनीत कुमार ने मंत्री को अवगत कराया कि सरकार द्वारा विभिन्न विभागों के माध्यम से संचालित स्वरोजगार योजनाओं के लिए अधिक से अधिक बेरोजगार युवाओं को ऋण मुहैया कराना के लिए निरंतर उनके द्वारा सभी विभागीय अधिकारियों, बैंकों की निरंतर समीक्षा बैठक की जा रही है, ताकि इस दिशा में बेहतर कार्य करते हुए अधिक से अधिक लोगों को ऋण उपलब्ध कराये जा सके ताकि वह अपना स्वरोजगार शुरू कर सके। उन्होंने कहा कि सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये है कि स्वरोजगार योजनाओं के लिए जो भी लक्ष्य निर्धारित किया गया है उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए 15 सितम्बर तक सभी विभागीय अधिकारियों को प्राप्त आवेदनों को बैंकों को प्रेषित करने के निर्देश दिये गये है तथा सभी बैंक प्रबन्धकों को सभी आवेदन पत्रों को 30 सितम्बर तक स्वीकृत करते हुए ऋण वितरण करने के निर्देश दिये गये है, ताकि निर्धारित लक्ष्य को माह सितम्बर में ही हासिल किया जा सके।

मंत्री द्वारा 97 लाख 06 हजार के चैक वितरित-

उन्होंने कहा कि आज आयोजित शिविर में 56 लाभार्थियों को मंत्री द्वारा 97 लाख 06 हजार के चैक वितरित किये गये है जिसमें समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित स्वरोजगार योजना के लिए 02 लाभार्थियों को 80 हजार की धनराशि, नगरपालिका द्वारा 06 लाभार्थियों को 09 लाख 41 हजार, उद्योग विभाग के 10 लाभार्थियों को 19 लाख 95 हजार, डीआरडीए के 34 लाभार्थियों को 43 लाख 50 हजार, पर्यटन विभाग के 02 लाभार्थियों को 16 लाख 40 हजार, ग्रामोद्योग बोर्ड के 02 लाभार्थियों को 07 लाख की धनराशि की स्वीकृति की गयी। उन्होंने यह भी अवगत कराया है कि दिनांक 01 सितम्बर से 10 सितम्बर तक आयोजित कैम्पों के माध्यम से 118 आवेदन पत्रों के लिये 291.74 लाख की धनराशि स्वीकृत की गयी है जिसमें 6 लाभार्थियों को 10 लाख 96 हजार का ऋण वितरित किया जा चुका है।

226 आवेदन पत्र बैंकों को किए प्रेषित-

उन्होंने यह भी अवगत कराया है कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजना के तहत 147 निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष 226 आवेदन पत्र बैंकों को प्रेषित किये गये है जिसमें बैंकों द्वारा 90 आवेदन पत्र स्वीकृत किये गये है तथा 47 लाभार्थियों को ऋण वितरित किया जा चुका है। जिलाधिकारी ने मा0 मंत्री को आस्वस्थ किया है कि उनके द्वारा दिये गये निर्देशों का सभी स्वरोजगार योजनाओं से जुड़े विभागीय अधिकारियों से अनुपालन सुनिश्चित कराया जायेगा। इस अवसर पर जिलाधिकारी विनीत कुमार ने मा0 मंत्री को पुष्पगुच्छ भेंट कर जनपद आगमन पर स्वागत किया गया।

यह लोग रहे उपस्थित-

इस अवसर पर अध्यक्ष भाजपा शिव सिंह बिष्ट, ब्लाक प्रमुख बागेश्वर पुष्पा देवी, जिला विकास अधिकारी के.एन.तिवारी, परियोजना निदेशक डीआरडीए शिल्पी पंत, महाप्रबन्धक उद्योग जीपी दुर्गापाल, लीड बैंक अधिकारी एन.आर. जोहरी, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 उदय शंकर, खण्ड विकास अधिकारी बागेश्वर आलोक भण्डारी सहित विभिन्न बैंकों के प्रबन्धक, पात्र लाभार्थी एवं संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।