May 28, 2022

कोयला मंत्रालय ने किया आश्वस्त, विद्युत आपूर्ति बाधित होने की कोई भी आशंका पूरी तरह निराधार

 1,897 total views,  2 views today

कोयला मंत्रालय ने आश्वस्त किया है कि बिजली संयंत्रों की मांग पूरी करने के लिये देश में कोयले का प्रचुर भंडार उपलब्ध है। मंत्रालय ने कहा कि विद्युत आपूर्ति बाधित होने की कोई भी आशंका पूरी तरह निराधार है।

मॉनसून की अवधि बढ़ जाने के कारण आपूर्ति बाधित हुई थी

कोयला कंपनियों से भरपूर आपूर्ति के कारण इस वर्ष कोयला आधारित घरेलू बिजली उत्पादन लगभग 24 प्रतिशत बढ़ा है। मंत्रालय ने बताया कि मॉनसून की अवधि बढ़ जाने के कारण आपूर्ति बाधित हुई थी। मंत्रालय ने कहा कि बिजली संयंत्रों में कोयले की प्रतिपूर्ति कोयला कंपनियों से की जाने वाली दैनिक आपूर्ति से होती रहती है और संयंत्रों में कोयला भंडार खत्म हो जाने की कोई भी आशंका भ्रामक है।

आपूर्ति बढ़कर 15 लाख टन प्रतिदिन हो गयी है

कोयला मंत्रालय ने कहा कि कोल फील्ड क्षेत्रों में भारी वर्षा के बावजूद कोल इंडिया लिमिटेड ने इस वर्ष बिजली सेक्टर को 255 मीट्रिक टन से अधिक कोयले की आपूर्ति की है। अन्य स्रोतों से कुल कोयला आपूर्ति में से बिजली सेक्टर को मौजूदा आपूर्ति 14 लाख टन प्रतिदिन से अधिक है और वर्षा कम होने के साथ आपूर्ति बढ़कर 15 लाख टन प्रतिदिन हो गयी है। मंत्रालय ने कहा कि कोल इंडिया लिमिटेड इस महीने के अंत तक आपूर्ति बढ़ाकर 16 लाख टन प्रतिदिन से अधिक कर देगा।