October 17, 2021

पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा का 66 की उम्र में निधन, खेल जगत में छाई शोक की लहर

 1,992 total views,  2 views today

पूर्व क्रिकेट खिलाडी यशपाल शर्मा का आज नई दिल्‍ली में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया, वह अभी 66 वर्ष के थे ।यशपाल शर्मा 1983 विश्‍व कप विजेता टीम के सदस्‍य थे। उनका क्रिकेट करियर काफी शानदार रहा । यशपाल शर्मा के निधन से पूरे खेल जगत में शोक की लहर दौड़ पड़ी है ।

बचपन से थी क्रिकेट में रूचि

पूर्व क्रिकेटर यशपाल शर्मा मूल रूप से पंजाब के रहने वाले थे उनका जन्म 11 अगस्त 1954 को पंजाब के लुधियाना में हुआ था यशपाल शर्मा की बचपन से से ही क्रिकेट में विशेष रूचि थी ।  उन्होंने पंजाब के स्कूल की ओर से खेलते हुए  260 रनों का स्कोर बनाया था, जिसके बाद उन्होंने खूब सुर्खियां बटोरी ।

1983 के विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा बने

क्रिकेटर यशपाल शर्मा ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू चिर प्रतिद्वंदी टीम पाकिस्तान के खिलाफ साल 1978 में किया था। इसके बाद वह इंग्लैंड में खेले गए 1983 के विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे, जहां भारत ने वेस्टइंडीज को हराकर इतिहास रचा था। 1985 में अपने करियर का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले यशपाल शर्मा को सात साल के अंतराल में कभी कोई गेंदबाज वनडे क्रिकेट में शून्य पर आउट नहीं कर सका।उन्होंने 1979 से 1983 तक कुल 37 टेस्ट मैच खेले, जिनकी 59 पारियों में उन्होंने कुल 1606 रन बनाए ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक व्यक्त किया


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जाने माने क्रिकेटर यशपाल शर्मा के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने एक ट्वीट में कहा कि श्री शर्मा 1983 की भारतीय क्रिकेट टीम के प्रिय सदस्य थे। उन्होंने कहा कि श्री शर्मा टीम के सदस्यों, प्रशंसकों के साथ-साथ उभरते क्रिकेटरों के प्रेरणा स्रोत्र थे। प्रधानमंत्री ने यशपाल शर्मा के परिवार और प्रशंसकों के प्रति भी संवेदना व्यक्त की।

खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने शोक व्यक्त किया


सूचना और प्रसारण तथा खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने जाने-माने क्रिकेटर और 1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य यशपाल शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि श्री शर्मा के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता। खेल मंत्री ने कहा कि उनका करियर शानदार रहा है और 1983 विश्व कप में भारत के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वालों में दूसरे नम्‍बर पर रहे थे।