October 26, 2021

सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेता संघ ने मैदानी और पर्वतीय क्षेत्रों की भौगोलिक स्थिति देखते हुए सरकार से उनकी मांग पर पुनर्विचार का किया अनुरोध

 1,538 total views,  2 views today

अल्मोड़ा: आज नंदा देवी परिसर में सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेता संघ की बैठक आयोजित की गयी, जिसमें 09 जुलाई को देहरादून में हुई वार्ता जिसमें प्रान्तीय संगठन के पदाधिकारियों द्वारा माननीय खाद्यमन्त्री श्री बंसीधर भगत एवं शासन स्तर के अधिकारियों से हुई, वार्ता के दौरान जो निर्णय लिये गये, उसमें कुछ बिन्दुओं पर नाराजगी करते हुए मैदान एवं पर्वतीय क्षेत्रों की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए पुन: निर्णय किये जाने की मांग।

30000 ऱु०  प्रतिमाह मानदेय  दिया जाय

इसके साथ ही प्रदेश सरकार से यह भी अनुरोध किया गया कि 01 सितम्बर, 2021 से पूर्व केवल पर्वतीय क्षेत्र के अंचल के प्रतिनिधियों से बैठक कर उनकी मांगों पर विचार किया जाने में निर्णय लिया गया कि प्रदेश सरकार से मांग की जाय कि पर्वतीय क्षेत्र के विक्रेताओं को मानदेय के रूप में 30000 ऱु०  प्रतिमाह दिया जाय, तथा राज्य खाद्य योजना में भी केन्द्रीन खाद्यान योजना के अनुरूप लाभांश दिया जाय ।

13 जुलाई से होने वाली हड़ताल स्थगित

माननीय मंत्री के अनुरोध को स्वीकार करते हुए संघ द्वारा निर्णय लिया गया कि दिनांक 13 जुलाई से होने वाली हड़ताल को स्थगित किया जाय । सभी विक्रेताओं से अनुरोध किया गया कि वह सामान का नियमानुसार वितरण सुनिश्चित करें। बैठक में निर्णय लिया गया कि जब तक सरकार द्वारा आनलाइन खर्चा स्वीकृत नहीं किया जाए तब तक कोई भी विक्रेता आनलाइन वितरण नहीं करेगा | संघ द्वारा सभी विकताओं से कहा गया कि वह ऑन-लाइन खाद्यान वितरण नहीं करें जो भी विक्रेता संघ के निर्णय के विरुद्ध कार्य करेगा उसे संघ से हटा दिया जायेगा ।

यह लोग रहे उपस्थित

आज की बैठक में दिनेश गोयल, मनोज वर्मा, केसर सिंह, अमय साह, विपीन तिवारी, प्रकाश भट्ट, इन्दर भूपाल सिंह, लक्ष्मीदत्त भट्ट, देवेन्द्र चौहान, संजय साह (रिक्ख) प्रजापति पाण्डे, चतुर सिंह, पूरन सिंह कार्की, किशनलाल, सुरेश चंद्र भट्ट, पूरन सिंह, सुरेश जोशी, शिवराज सिंह, नन्दन सिंह, खड़क सिंह, प्रमोद कुमार, पान सिंह, डिगर सिंह, सूरज तिवारी, भैरवदत्त, दिनेश चौहान, चंद्र बल्लभ, दीपक साह, लीला साह के अलावा लगभग 100 से अधिक विक्रेता उपस्थित थे ।