December 8, 2021

एसएसजे विश्वविद्यालय में मनाया गया स्वतंत्रता दिवस, कुलपति प्रो.नरेंद्र सिंह भंडारी ने किया झंडारोहण

 3,372 total views,  2 views today

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय,परिसर अल्मोड़ा में स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर कुलपति प्रो नरेन्द्र सिंह भंडारी ने झंडारोहण किया ।
मुख्य अतिथि के रूप में विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रोफेसर नरेंद्र सिंह भंडारी ने झंडारोहण करते हुए सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाइयाँ दी। उन्होंने कहा कि इस देश को आजादी दिलाने के लिए असंख्य वीरों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। हमें उनके बलिदान को याद रखकर इस देश को विश्वगुरु बनाने के लिए अपना सहयोग देना होगा।

यह महोत्सव देश को एक करने, युवाओं को देश के विकास नें अपना योगदान देने के लिए एक सोच

कुलपति  प्रो भंडारी  भारत की आजादी का अमृत महोत्सव के संबंध में कहा कि यह महोत्सव देश को एक करने, युवाओं को देश के विकास नें अपना योगदान देने के लिए एक सोच है। हम 75 साल में अपने स्वतंत्रता को याद करें और अपने शहीद वीरों के देश के प्रति बलिदान से प्रेरणा लें। उन्होंने कहा कि शिक्षक युवाओं के मार्गदर्शक हैं। वह विद्यार्थियों को नई दिशा दें, चिंतन दें। विश्वविद्यालय के संबंध में उन्होंने कहा कि वर्षभर में हम भारत सरकार के द्वारा दिये गए कार्यक्रमों के साथ, विश्वविद्यालय, परिसर और विभाग स्तर के क्रियाकलापों को आयोजित करेंगे।  देशज परंपरा और कलाओं को जीवित रखने के लिए हम कार्यक्रम आयोजित कराएंगे। कुली बेगार आंदोलन को राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में पहचान दिलाने के लिए कार्य करेंगे। शहीदों के सम्मान में  हम विश्वविद्यालय में शहीद सर्किट बनाएंगे, जिससे कि हम सभी वीर शहीदों के योगदान को  याद रखें।  हम देशज परंपरा को बढ़ावा देंगे। स्वामी जी को याद करते हुए उन्होंने कहा कि स्वामी जी ने विश्व को चिंतन दिया है। वह हमारे लिए प्रेरणास्रोत है। स्वामी जी का अल्मोड़ा से  विशेष लगाव रहा है। क्योंकि यह भूमि ऐतिहासिक, सांस्कृतिक,आध्यात्मिक और प्राकृतिक रूप से समृद्ध रहा है। स्वामी विवेकानन्द जी जैसे अनेकानेक महापुरुषों ने इस भूमि के मान सम्मान को बढ़ाया है। हम उन सभी क्षेत्रों को लेकर कार्य करेंगे। हम इन उत्तराखंड में ऐतिहासिक महत्व के क्षेत्रों को विकसित करेंगे। प्रो भंडारी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में युवाओं की भूमिका अहम है। तीन परिसरों को लेकर हम सहयोग करेंगे। शिक्षक,कर्मचारी और छात्रों का आह्वान करते हुए उन्होंने  कहा कि ग्रीन कैंपस, क्लीन कैम्पस , ग्रीन होम की आज से शुरुआत 7 दिन के लिए करेंगे।
हम सभी शिक्षक छात्रों के विश्वास को बनाये रखें। विद्यार्थियों के भविष्य को लेकर कार्य करें।

एनसीसी के कैडेट्स के परेड, सेल्यूट आदि की कार्यवाही का संचालन किया

इस अवसर पर कैप्टेन डॉ देवेंद्र बिष्ट ने संचालन किया और उन्होंने एनसीसी के कैडेट्स के परेड, सेल्यूट आदि की कार्यवाही का संचालन किया।
सभी कैडेट्स ने भारत माता के नारों से परिसर गुंजायमान कर दिया। 24 यू के गर्ल्स एवं 77 BN एन सी सी के कैडेट्स ने ड्रिल, मार्चपास्ट किया और साथ ही झंडे और मुख्य अतिथि को सैल्यूट झरने की कार्यवाही की। इस अवसर पर संगीत विभाग की छात्राओं ने देशभक्ति गीत गाकर माहौल देशभक्तिमय किया।

यह लोग रहे मौजूद

कार्यक्रम में  प्रो जगत सिंह बिष्ट (निदेशक, शोध एवं प्रसार निदेशालय),प्रो सुशील कुमार जोशी (परीक्षा नियंत्रक), डॉ. देवेंद्र सिंह बिष्ट ( विशेष कार्याधिकारी), प्रो0 पी0 एस0 बिष्ट (अधिष्ठाता प्रशासन), प्रो0 इला साह), अधिष्ठाता छात्र कल्याण,  डाॅ0 मुकेश सामंत (कुलानुशासक),  प्रो0 जी0 सी0 शाह (अधिष्ठाता परीक्षा), प्रो0 के0 सी0 जोशी (अधिष्ठाता वित्त/बजट) तथा प्रो0 शेखर चंद्र जोशी (अधिष्ठाता शैक्षिक),लेफ्टिनेंट डॉ ममता पंत,   प्रो पुष्पा अवस्थी (संकायाध्यक्ष,कला), प्रो ए. के. पंत ( संकायाध्यक्ष,विधि), प्रो विजया रानी ढौंडियाल (संकायाध्यक्ष, शिक्षा संकाय), प्रो सोनू द्विवेदी (संकायाध्यक्ष, दृश्यकला), प्रो जया उप्रेती (संकायाध्यक्ष, विज्ञान), प्रो नीरज तिवारी, प्रो अनिल कुमार यादव, प्रो. वी. डी. एस. नेगी, प्रो.एम. एम. जिन्नाह, प्रो मीना पथनी, प्रो रुबीना अमान, डॉ प्रीति आर्य, डॉ गीता खोलिया, डॉ नन्दन बिष्ट, डॉ आर सी मौर्य, डॉ.नवीन भट्ट, डॉ मनोज बिष्ट,लियाकत अली, डॉ ललित जोशी,डॉ गौरव कर्नाटक, डॉ सबीहा नाज, प्रो एन डी काण्डपाल, प्रो इला बिष्ट, देवेंद्र पोखरिया, विपिन जोशी, विनीत कांडपाल, देवेंद्र धामी, दिनेश पटेल,जयवीर सिंह, डॉ संजीव आर्या, डॉ कुसुमलता आर्या, डॉ धनी आर्या, डॉ दीपक सागर, डॉ पुष्पा वर्मा, डॉ अरशद, प्रो एस डी शर्मा आदि सहित विभिन्न विभाग के विभागाध्यक्ष, शिक्षणेत्तर कर्मी, छात्र-छात्राएं, छात्रसंघ पदाधिकारी, विश्वविद्यालय के कर्मी आदि शामिल हुए।