October 2, 2022

विश्व भुखमरी सूचकांक में भारत की स्थिति चिंताजनक, जानिये पड़ोसी देशों की क्या है स्थिति

 2,395 total views,  4 views today

वैश्विक कुपोषण पर नजर रखने वाली वैश्विक भुखमरी सूचकांक की आधिकारिक वेबसाइट पर गुरुवार को ये जानकारी साझा की गयी कि चीन,कुवैत और ब्राजील समेत 18 देशों ने पांच से कम के जीएचआई स्कोर के साथ शीर्ष स्थान साझा किया है। 2021 में किये सर्वे में भारत 116 देशों के वैश्विक भुखमरी सूचकांक में कुछ पायदान नीचे 101वें स्थान पर आ गया है। रिपोर्ट के अनुसार वह पड़ोसी देश पाकिस्तान, बांग्लादेश और नेपाल से भी पीछे हो गया है। जबकि पिछले साल भारत 94वें स्थान पर था।

भारत की स्थिति चिंताजनक

रिपोर्ट्स के अनुसार भारत की स्थिति चिंताजनक
इसी के साथ भारत का जीएचआई सूचकांक भी नीचे आ गया है जो कि वर्ष 2000 में 38.8 और 2012 और 2021 के बीच 28.8 – 27.5 के बीच रहा था। जीएचआई सूचकांक की गणना अल्पपोषण, कुपोषण, बच्चों की वृद्धि दर और बाल मृत्यु दर के मापदंडों से तय की जाती है। आयरलैंड और जर्मनी की मानव विकास संस्थाओं द्वारा संयुक्त रूप से ये रिपोर्ट तैयार की गयी जिसमें भारत की स्थिति पर चिंता जताई गई है।

पड़ोसी देश भी अपनी जनता का पेट भरने में सक्षम नहीं

इस बात को नाकारा नहीं जा सकता कि भुखमरी सूचकांक में स्वयं भारत की स्थिति चिंताजनक है, लेकिन रिपोर्ट्स की मानें तो पड़ोसी देशों जैसे नेपाल (76वां स्थान), बांग्लादेश (76वां स्थान), म्यांमार (71वां स्थान) और पाकिस्तान (92वां स्थान) में भुखमरी की स्थिति भारत से भी अधिक गंभीर है।