July 1, 2022

पीएम मोदी 1 और 2 नवंबर को दुनिया भर के 120 राष्ट्राध्यक्षों के साथ कॉप-26 की ‘वर्ल्ड लीडर्स समिट’ में लेंगे भाग

 731 total views,  2 views today

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरूवार को कहा कि वह कॉप-26 के दौरान विश्व नेताओं के सम्मेलन में कार्बन उत्सर्जन के बारे में एक समान व्यवस्था और हरित तथा समावेशी विकास के लिए टिकाऊ जीवन शैली के महत्व सहित जलवायु परिवर्तन के मुद्दों को व्यापक रूप से रेखांकित करेंगे। रोम और ग्लासगो की अपनी यात्रा से पहले, श्री मोदी ने कहा कि कॉप-26 शिखर सम्मेलन भागीदार देशों, नवप्रवर्तकों और अंतर-सरकारी संगठनों के नेताओं सहित सभी हितधारकों के साथ मिलने तथा स्वच्छ विकास को और तेज करने की संभावनाओं का पता लगाने का अवसर प्रदान करेगा।

ऊर्जा दक्षता, वनीकरण और जैव-विविधता के विस्तार पर काम कर रहा है

प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रकृति और संस्कृति के साथ सद्भाव में रहने की भारतीय परंपरा के अनुरूप, भारत स्वच्छ और नवीकरणीय ऊर्जा, ऊर्जा दक्षता, वनीकरण और जैव-विविधता के विस्तार पर काम कर रहा है। भारत स्थापित अक्षय ऊर्जा, पवन और सौर ऊर्जा क्षमता के मामले में दुनिया के शीर्ष देशों में से एक है।

29 से 31 अक्टूबर तक रोम, इटली की यात्रा पर रहेंगे

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इटली के प्रधानमंत्री के निमंत्रण पर 29 से 31 अक्टूबर तक रोम, इटली की यात्रा पर रहेंगे। वे जी-20 देशों के नेताओं के 16वीं शिखर बैठक में भाग लेंगे। प्रधानमंत्री पोप फ्रांसिस से मिलने के लिए वेटिकन सिटी भी जाएंगे। जी20 शिखर सम्मेलन से अलग वह अन्य सहयोगी देशों के नेताओं से भी मुलाकात करेंगे और उनके साथ भारत के द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति की समीक्षा करेंगे।

कॉप-26 की ‘वर्ल्ड लीडर्स समिट’  में भाग लेंगे

G20 शिखर सम्मेलन के समापन के बाद, प्रधानमंत्री मोदी जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्वेंशन में पार्टियों के 26वें सम्मेलन कॉप-26 में भाग लेने के लिए ग्लासगो रवाना होंगे। वह 1 और 2 नवंबर को दुनिया भर के 120 राष्ट्राध्यक्षों के साथ कॉप-26 की ‘वर्ल्ड लीडर्स समिट’  में भाग लेंगे।