August 14, 2022

उत्तराखंड: समाज कल्याण अधिकारी टीकाराम मलेथा के घर में छात्रवृत्ति घोटाले को लेकर एसआईटी ने चस्पा किया नोटिस

 2,703 total views,  6 views today

छात्रवृत्ति घोटाले की जांच कर रही एसआईटी(Special Investigation Team) ने समाज कल्याण अधिकारी टीकाराम मलेथा के घर पर नोटिस चस्पा किया है। वह वर्ष 2020 से कनखल थाने में दर्ज मुकदमे में अपना पक्ष रखने एसआईटी के सामने नहीं आ रहे थे।

91 छात्रों का फर्जी भौतिक सत्यापन दर्शाया

एसआईटी के अनुसार सरस्वती प्रोफेशनल डिग्री कॉलेज जगजीतपुर हरिद्वार में वर्ष 2015-16 के दौरान 41 लाख रुपये से ज्यादा की छात्रवृत्ति भेजी गई थी। टीकाराम मलेथा उस समय हरिद्वार के समाज कल्याण अधिकारी थे। वर्तमान में वह चमोली के प्रभारी जिला समाज कल्याण अधिकारी हैं।जांच के अनुसार पाया गया कि मलेथा ने 91 छात्रों का फर्जी भौतिक सत्यापन दर्शाया था।छात्रवृत्ति की यह रकम कॉलेज के संचालकों व कथित छात्रों के खातों में गई, जिसे संचालकों ने निकाला। कालेज संचालक को भी भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत आरोपी पाया गया था। जानकारी के अनुसार टीकाराम मलेथा को अपना पक्ष रखने के लिए विभिन्न माध्यमों से सूचित किया गया लेकिन वह एसआईटी के सामने उपस्थित नहीं हुए। इसी क्रम में रविवार को उनके निजी आवास खन्ना नगर ज्वालापुर हरिद्वार में नोटिस चस्पा किया गया है। उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी है।