August 15, 2022

उत्तराखंड: मरे हुए बेटे को जीवित करने का झांसा देकर तांत्रिक ने पिता से 3 लाख रुपए ठगे

 498 total views,  2 views today

हरिद्वार‌ से एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। जहां एक मृत युवक को जीवित करने का झांसा देकर एक तांत्रिक ने मृतक के परिजनों से 3 लाख रुपए की ठगी कर ली। लेकिन न बेटा जीवित हुआ और न रकम वापस मिली। जिसके बाद पीड़ित व्यक्ति ने पुलिस को मामले की तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

यह है पूरा मामला

बहादरपुर सैनी निवासी वीर सिंह के पुत्र प्रियांक की 31 जुलाई 2020 को घर में ही सांप के काटने से मृत्यु हो गई थी। धार्मिक परंपराओं के अनुसार परिवार ने शव को गंगा में प्रवाहित कर दिया। वीर सिंह ने बताया कि कुछ दिन बाद एक संत उनके घर आए और उनके बेटे प्रियांक के जीवित होने की जानकारी दी। यह सुनकार परिवार की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। इसी बीच नारसन निवासी अजब सिंह से उनकी मुलाकात हुई। अजब सिंह ने तांत्रिक अरविंद शर्मा से फोन पर उनकी बात कराई। उसका कहना था कि प्रियांक जीवित है, लेकिन उसका पता लगाने के लिए विशेष पूजा करानी होगी। 21 दिन के भीतर वह लौट आएगा।

3 लाख रुपये की ठगी

बेटे को वापस पाने के लालच में वीर सिंह ठगों के झांसे में आ गया। उसने 2100 रुपये अरविंद के बैंक खाते में डाल दिए गए। ऐसे यह सिलसिला चलता रहा और धीरे-धीरे ठगों ने उससे 3 लाख रुपए हड़प लिए। जिसके बाद पीड़ित ने पुलिस को मामले की तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर जांच शुरू कर दी है।