September 30, 2022

उत्तराखंड: अब तक प्रदेश में 20,505 लंपी वायरस के मामले आए सामने, 341 पशुओं की लंपी रोग से मृत्यु

 779 total views,  5 views today

उत्तराखंड में पशुओं में फैल रहा लंपी वायरस का कहर जारी है।  अब तक उत्तराखंड में 20,505 लंपी वायरस के केस दर्ज किए गए हैं ।  जिनमें से 8,028 पशु स्वस्थ हो चुके हैं । वहीं 341 पशुओं की लंपी रोग से मृत्यु हो गई है । जिसमें हरिद्वार और देहरादून लंपी रोग से सर्वाधिक प्रभावित जिले हैं । जिनमें से हरिद्वार में 11,350 और देहरादून में 6,383 लंपी रोग के केस दर्ज किए गए हैं ।

समीक्षा बैठक हुई

पशुओं में फैल रही लंपी वायरस को लेकर पशुपालन मंत्री सौरभ बहुगुणा ने विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की । बैठक में उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में 20,505 लंपी वायरस के केस दर्ज किए गए हैं ।  जिनमें से 8,028 पशु स्वस्थ हो चुके हैं । वहीं 341 पशुओं की लंपी रोग से मृत्यु हो गई है ।

लंपी वायरस को लेकर टोल फ्री नंबर जारी

उन्होंने सभी पशुपालकों से अपने पशुओं का बीमा कराने की अपील की । ताकि, किसी भी प्रकार की हानि होने पर पशुपालकों को उचित मुआवजा प्राप्त होगा ।  उन्होंने लंपी वायरस को लेकर टोल फ्री नंबर 18001208862 जारी किया ।जिस पर लंपी रोग के संबंध में जानकारी प्राप्त की जा सकती है । इसी के साथ एसओपी भी जारी की गई लंपी रोग ग्रस्त क्षेत्र से पशुओं के व्यापार पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया गया है ।  हरिद्वार और देहरादून लंपी रोग से सर्वाधिक प्रभावित जिले हैं । उन्होंने  कहा कि प्रदेश में लंपी रोग की मॉनिटरिंग  के लिए सरकार ने नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं । उन्होंने कहा पशुओं के 6 लाख टीके उपलब्ध हैं, 5 लाख 80 हजार टीके प्रदेश के विभिन्न जनपदों में वितरित किए जा चुके हैं ।  राज्य सरकार ने 4 लाख टीकों का ऑर्डर दिया है ।