May 24, 2022

दिल्ली एम्स में रामलीला मंचन के दौरान किए गए भद्दे मज़ाक का विडियो वायरल, छात्र संघ ने मांगी माफी

 2,443 total views,  4 views today

दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान (एम्स) के कुछ छात्रों द्वारा रामलीला पर भद्दे मजाक को लेकर अब अस्पताल के छात्र संघ ने माफी मांगी है। रामलीला का मंचन करने वाले छात्रों पर कथित रूप से अभद्रता करने और रामायण के किरदारों का मजाक उड़ाने का आरोप लगा है। धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए छात्रों को गिरफ्तार किए जाने की मांग भी उठ रही है। एम्स के छात्रों द्वारा की गई रामलीला का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ और लोगों ने जमकर आलोचना की।

लिखित रूप से मांगी माफी

वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ छात्र रामायण के अलग-अलग पात्र का किरदार निभा रहे हैं, इस बीच वह कथित तौर पर मजाकिया अंदाज में कुछ ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर रहे है जिससे लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हुईं। इस रामलीला का मंचन दशहरा के अवसर पर एम्स परिसर में छात्रावास के क्वार्टर के पास एमबीबीएस प्रथम वर्ष के कुछ छात्रों द्वारा किया गया था। रविवार को एम्स छात्र संघ की तरफ से लिखित में माफी मांगी ली गई। एम्स छात्र संघ ने एक ट्वीट में कहा, एम्स के कुछ छात्रों द्वारा की गई रामलीला मंचन का एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। छात्रों की ओर से हम इस नाटक के आचरण के लिए क्षमा चाहते हैं, जिसका उद्देश्य किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि फिर कभी ऐसी कोई गतिविधि भविष्य में न हो। वहीं, इस मामले पर संज्ञान लेते हुए एम्स प्रशासन ने छात्रों के साथ बात भी की। एक अधिकारी ने बताया कि इस मुद्दे की संवेदनशीलता को समझते हुए छात्रों ने माफी मांगते हुए एक ट्वीट जारी किया है। उन्होंने आश्वासन दिया है कि इस तरह की घटना फिर नहीं होगी।

यह है पूरा मामला

आपको बता दें कि दशहरे के अवसर पर एम्स मेडिकल के छात्रों ने एक कार्यक्रम आयोजित किया। इस कार्यक्रम में एक नाटक प्रस्तुत की गई जिसमें कई छात्रों ने हिस्सा लिया। इस कार्यक्रम में रामलीला का मंचन नाटक के रूप में पेश किया गया।रामलीला के मंचन में भगवान राम और सीता मां के बारे में अभद्र भाषा का प्रयोग किया और रामलीला को बेहद मजाकिया और संवेदनशील तरीके से पेश किया गया, जो कि किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचा सकता है।