October 23, 2021

दिल्ली के एम्स में 11 साल के बच्चे की बर्ड फ्लू से हुई मौत, सरकार की बढ़ी चिंता

 2,724 total views,  2 views today

देश में कोरोना महामारी का कहर भले ही कम हो गया हो, लेकिन अभी भी महामारी पूरी तरह से सही नहीं हुई है। अभी भी कोरोना महामारी का भय बना हुआ है। ऐसे में विशेषज्ञों द्वारा दावा किया गया है कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर आएगी और वह दोनों लहर से ज्यादा घातक साबित होगी। जिसका सबसे ज्यादा असर बच्चों को प्रभावित करेगा। ऐसे में बच्चों पर वायरस का डर ज्यादा बढ़ गया है। वही बर्ड फ्लू ने भी बच्चों पर अपनी दस्तक दे दी है।

बर्ड फ्लू से एक 11 साल के बच्चे की हुई मौत-

कोरोना महामारी के बीच अब बर्ड फ्लू का भी खतरा बढ़ गया है। बर्ड फ्लू का यह मामला दिल्ली से सामने आया है।  दिल्ली के एम्स अस्पताल में एवियन इन्फ्लूएंजा H5N1 (बर्ड फ्लू) के मरीज की पहली मौत हुई है। जिसमें यह मरीज एक 11 साल का बच्चा है। जिससे सरकार और आम जनता की चिंता बढ़ गई है।

अस्पताल के कर्मचारियों को आइसोलेशन में रखा-

इस घटना के बाद अस्पताल में भी हड़कंप मच गया। वही मरीज का इलाज कर रहे और संपर्क में आए डॉक्टर्स और अस्पताल के कर्मचारियों को आइसोलेशन में रखा गया है।

जाने कैसे फैलता है बर्ड फ्लू-

बर्ड फ्लू किसी मरे या जिंदा पक्षी के संपर्क में आने से इंसानों में फैलता है। बर्ड फ्लू से संक्रमित पक्षी की बीट या लार में यह वायरस पाया जाता है। यदि कोई इंसान संक्रमित पक्षी को छू लेता है और फिर उसके बाद अपनी आंख, नाक या मुंह को छूता है तो यह वायरस उस इंसान के शरीर में प्रवेश करता है, और इंसान इस वायरस से संक्रमित हो जाता है।


सफाई का रखे ध्यान-

इस वायरस से बचने के लिए संक्रमित पोल्ट्री फार्म में जाने से बचें। साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें। अपने हाथों को बार बार धोए। सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। मास्क पहनकर रखें। मास्क हमें कोरोना से भी संक्रमित होने से बचाएगा।