December 7, 2021

अल्मोड़ा: सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, द्वारा महापुरुष सोबन सिंह जीना जी की 112 वीं जयंती के अवसर पर कर्मयोगी महापुरुष सोबन सिंह जीनाः व्यक्तित्व एवं कृतित्व‘ विषय पर व्याख्यानमाला के दूसरे दिन उनके पैतृक ग्राम सुनोली में हुआ कार्यक्रम

 2,294 total views,  2 views today

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा द्वारा महापुरुष सोबन सिंह जीना जी की 112 वीं जयंती के अवसर पर कर्मयोगी महापुरुष सोबन सिंह जीनाः व्यक्तित्व एवं कृतित्व‘ विषय पर व्याख्यानमाला के दूसरे दिन उनके पैतृक ग्राम सुनोली में कार्यक्रम  हुआ
इससे पूर्व सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, परिसर अल्मोड़ा स्थित जीना जी की मूर्ति पर सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो नरेंद्र सिंह भंडारी, शोध एवं प्रसार निदेशालय के  प्रो जगत सिंह बिष्ट, परिसर निदेशक प्रो नीरज तिवारी, कार्यक्रम संयोजक वी डी एस नेगी, विशेष कार्याधिकारी डॉ देवेंद्र सिंह बिष्ट आदि ने माल्यार्पण किया। NCC 77 बटालियन के कैडेट्स,  शिक्षक और कर्मियों को अपने संबोधन में कुलपति प्रो नरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा कि हमें जीना जी के विशाल व्यक्तित्व से प्रेरणा लेनी चाहिए। विशाल व्यक्तित्व के धनी  इन महापुरुषों की जयंती को हम प्रेरणा लेने के लिए मनाते हैं।  शिक्षा के मंदिर में हम प्रेरित होकर कार्य करें।  हम इनकी जयंती को संकल्प के रूप में लें। उन्होंने कहा कि हम विश्वविद्यालय द्वारा व्याख्यानमाला को प्रतिवर्ष मनाएंगे। उस अवसर पर जयंती समारोह के संयोजक प्रो. वी.डी. एस. नेगी भी संबोधित किया।

सोबन सिंह जीना जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया

सोबन सिंह जीना जी के ग्राम सुनोली में आयोजित हुए जयंती में अतिथि रूप में कुलपति प्रो. नरेंद्र सिंह भंडारी, शोध एवं प्रसार निदेशालय के निदेशक प्रो. जगत सिंह बिष्ट, ग्राम प्रधान मीना, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री श्री गोविंद पिलख्वाल, जीना जी के परिवार के श्री मनीष जीना, महेंद्र जीना, भूपाल सिंह रावत (मंडल अध्यक्ष), परिसर निदेशक प्रो नीरज तिवारी, कार्यक्रम संयोजक प्रो. वी.डी. एस. नेगी आदि ने सोबन सिंह जीना जी की मूर्ति पर माल्यार्पण किया।
कार्यक्रम के दौरान जीना जी की पुत्र वधु हंसी जीना जी को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो भंडारी ने शॉल और लछम सिंह, मनीष जीना, महेंद्र जीना जी को बैज लगाकर सम्मानित किया गया।

अतिथियों का स्वागत किया

आयोजन के सदस्य श्री गोविंद सिंह चौहान ने जीना जी के पैतृक ग्राम क्षेत्र में पधारे गए अतिथियों के समक्ष विस्तार से जीना जी से संबंधित संस्मरणों को याद किया। श्रीमती मीना देवी (ग्राम प्रधान) ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।

शिक्षा को लेकर हम कार्य करेंगे

जयंती समारोह के  मुख्य अतिथि प्रो0 नरेंद्र सिंह भंडारी (माननीय कुलपति सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय, अल्मोड़ा) ने कहा कि सोबन सिंह जीना जी के पैतृक गांव को देखकर अच्छा लगा। हम शिक्षा को लेकर हम कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय, शिक्षकों के सहयोग से यहां  जनजागरूकता, विधिक परामर्श, शिक्षा, स्वास्थ्य को लेकर कार्य करेंगे।
इस अवसर पर जयंती समारोह  के संयोजक प्रो0 वी0डी0एस0नेगी ने संचालन किया। उन्होंने जीना जी को स्मरण करते हुए कहा कि उनके ग्राम के संबंध में वार्ता रखी। सामाजिक कार्यकर्ता ईश्वर जोशी ने बात रखी।

यह लोग मौजूद रहे

कार्यक्रम में  डॉ. देवेंद्र सिंह बिष्ट(विश्वविद्यालय विशेष कार्याधिकारी), परिसर निदेशक प्रो. नीरज तिवारी, प्रो. जगत सिंह बिष्ट (निदेशक,शोध एवं प्रसार निदेशालय),सहायक लेखाधिकारी श्री अमित त्रिपाठी, प्रो.  प्रो. के. सी. जोशी (संकायाध्यक्ष, वाणिज्य एवं प्रबंधन), प्रो अरविंद अधिकारी, डॉ नंदन सिंह बिष्ट, डॉ. मुकेश सामंत, डॉ. राम चन्द्र मौर्य, डॉ. मनोज बिष्ट,  डॉ. अनामिका पंत, श्री रवींद्र नाथ पाठक, डॉ सुशील भट्ट,  डॉ. देवेंद्र धामी,  लियाकत अली खान (विश्वविद्यालय क्रीड़ा प्रभारी), डॉ ललित जोशी (विश्वविद्यालय मीडिया प्रभारी) श्री लल्लन कुमार सिंह,  प्रो. विजय पांडे, हेमलता अवस्थी सहित विश्वविद्यालय के शिक्षक, कर्मचारी एवं समाजसेवी मौजूद रहे।