October 2, 2022

28 सितंबर विश्व रेबीज दिवस: रेबीज़ के खिलाफ जितनी हैं लड़ाई, जाने इस बार की थीम का महत्व

 2,739 total views,  2 views today

आज 28 सितंबर है। आज विश्व रेबीज़ दिवस भी है। यह हर साल 28 सितंबर को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य लोगों को इस जानलेवा रोग के प्रति जागरूक करना है।

इस दिन को मनाने का महत्व-

विश्व रेबीज दिवस पहली बार 28 सितंबर, 2007 को मनाया गया था। जिसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन, सेंटर फोर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन व अमेरिका और एलायंस फोर रेबीज कंट्रोल ने एक साझा कार्यक्रम आयोजित किया था। अब इस दिवस का कॉर्डिनेशन ग्लोबल एलायंस फोर रेबीज कंट्रोल करता है। विश्व रेबीज दिवस को मनाने का मकसद रेबीज पर जागरुकता फैलाने और बीमारी की रोकथाम को बढ़ावा देना है। रेबीज एक वायरल बीमारी है जो इंसानों और जानवरों में दिमाग की सूजन का कारण बनती है। बीमारी का लोगों में आतंक स्वीकार करने के लिए ये महत्वपूर्ण दिन है। दिवस जानवरों की बेहतर देखभाल और रेबीज जैसी प्रतिकूल स्थितियों से निपटने की जानकारी फैलाने पर फोकस करता है।

2021 की थीम-

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, विश्व रेबीज दिवस 2021 की थीम ‘रेबीज: तथ्य, डर नहीं’ रखी गई है। जिसका मकसद दुनियाभर को यह संदेश पहुंचाना है कि रेबीज की बीमारी से डरने की जरूरत नहीं है। बल्कि हमें तथ्यों के बारे में जागरुक होने की ज्यादा जरूरत है। सही कदम व बचाव के तरीके अपनाकर इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है।