December 1, 2021

अल्मोड़ा: मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से अतिवृष्टि और आपदा पर वीसी के माध्यम से की बैठक, दिए अहम निर्देश

 1,418 total views,  2 views today


उत्तराखण्ड राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने आज प्रदेश के सभी जिलाधिकारियों से अतिवृष्टि और आपदा प्रबंधन पर विडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से समीक्षा बैठक की।

जिलाधिकारियों को अलर्ट मोड में रहने के दिए निर्देश-

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जिलाधिकारियों से विस्तृत जानकारी ली और हमेशा अलर्ट मोड में रहने के निर्देश दिये। जिससे किसी प्रकार की आपदा आने में तत्काल बचाव व राहत कार्य किया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी व कर्मचारी अपना मोबाईल 24 घण्टे आॅन रखे ताकि जरूरत पड़ने पर सम्पर्क किया जा सके। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सभी जिलाधिकारी आपदाग्रस्त क्षेत्रों का समय-समय पर भ्रमण करें ताकि आम जनता की समस्याओं का निस्तारण किया जा सके।

जनपद में स्थापित आपदा कंट्रोल रूम निरंतर रहे एक्टिव-

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि सभी जिलाधिकारी अपने जनपद में स्थापित आपदा कंट्रोल रूम निरंतर एक्टिव रहे और तहसील व ब्लाक स्तर पर सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को अर्लट कर दे। उन्होंने कहा कि जिन जनपदों को धनराशि की आवश्कता है व प्रस्ताव बनाकर जल्द ही शासन को प्रेषित करे दे ताकि तत्काल धनराशि जारी की जा सके।

संचार की हो सुचारू व्यवस्था-

मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा प्रबंधन में माॅक ड्रिल का बहुत महत्व है। समय समय पर माॅक ड्रिल अवश्य की जाए। वही अवरूद्ध मार्गों, क्षतिग्रस्त बिजली और पेयजल लाईनों को जल्द से जल्द बहाल करें। यह सुनिश्चित किया जाए कि आपदा प्रभावितो को मुआवजे की राशि तुरंत मिले और उन्हें सुरक्षित आवास, भोजन, पेयजल, दवाईयों की उपलब्धता हो। संचार की सुचारू व्यवस्था हो। मुख्यमंत्री ने पूर्व में आई आपदाओं में किये गये राहत व बचाव कार्यों की भी जानकारी लेते हुए कहा कि इनकी भी लगातार मानिटरिंग की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि जिन परिवारों का सुरक्षित स्थानों पर विस्थापन किया जाना है उनमें प्रक्रियाओं में किसी तरह का विलम्ब न हो।

जिलाधिकारी ने भी अन्य कार्यों की जानकारी दी-

इस अवसर पर जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने जनपद के सभी मोटर मार्गाें, पेयजल लाइन, विद्युत व्यवस्था, एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, जेसीबी, खाद्यान्न, मेडिकल सुविधा, एम्बुलेंस सहित अन्य कार्यों की जानकारी प्रदान की और आश्वस्त किया कि उनके द्वारा जो भी निर्देश दिये गये है उनका अनुपालन किया जायेगा।

इस दौरान यह लोग रहे उपस्थित-

इस दौरान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 सविता हयांकी, अधीक्षण अभियन्ता लोनिवि डी0एस0 हयांकी, अधिशासी अभियन्ता लोनिवि विजय कुमार, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान के0एस0 खाती, अधिशासी अभियन्ता विद्युत कन्हैया मिश्रा, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।