August 11, 2022

अल्मोड़ा: किसानों की आय 2022 तक दोगुना करना केंद्र व राज्य सरकार की प्राथमिकता- अजय टम्टा

 2,676 total views,  2 views today


आज सांसद अजय टम्टा ने विवेकानन्द पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान हवालबाग में आयोजित किसान मेले के दौरान कहा कि किसानों की आय 2022 तक दोगुना करने के साथ ही उन्हें उन्नतशील बीज व नई तकनीक के उपकरण मुहैया कराना केंद्र व राज्य सरकार की प्राथमिकता है।

किसान मेलों का आयोजन-

सांसद अजय टम्टा ने कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र में इस तरह के किसान मेलों का आयोजन होता रहता है। उन्होंने कहा कि इस अनुसंधान द्वारा किसानों को उन्नतशील बीज व नई तकनीकीय कृषि यंत्र मुहैया कराकर किसानों की आय दुगनी हो सके इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर कार्य किया जाता है। उन्हांेने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यही विजन है कि 2022 तक किसानांे की आय को दुगना किया जाय। उन्होंने कहा कि जो किसान भाई यहां आए हैं वह देश-दुनिया की नई तकनीक के बारे में अवश्य रूप से जानकारी लें। उन्होंने कहा कि कृषि उत्पादों को कैसे बाजार मुहैया हो सके इसके लिए हमें विशेष प्रयास करने होंगे।

किसान इस देश का है अन्नदाता-

इस अवसर पर विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान ने कहा कि किसान इस देश का अन्नदाता है उसे हमेशा सुखी रखने का प्रयास किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा किसानों को अनेक कृषि यंत्र सब्सिडी के माध्यम से दिए जा रहे हैं। उपाध्यक्ष ने कहा कि किसानों को इस मेले के माध्यम से उन्नत किस्म के बीज भी दिए जा रहे हैं ताकि वे आर्थिक रूप से मजबूत हो सके। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक डा0 लक्ष्मीकांत ने कहा कि संस्थान का मुख्य उद्देश्य इन किसान मेलों द्वारा किसानों को संस्थान द्वारा विकसित नई तकनीक, बीज एवं उन्नत कृषि यत्रों से किसानों को जानकारी मुहैया कराना है। उन्होंने बताया कि संस्थान द्वारा इस वर्ष गेहूॅ की दो नवीन प्रजातियॉ विकसित की गयी है जिनमें वीएल गेहूॅ 214, वीएल गेहूॅ 3004 है। इस किसान मेलें में चार उन्नतशील किसानों को सम्मानित किया गया।
      
किसान मेले में लगाये गये विभागीय स्टालों का किया निरीक्षण-

इस अवसर पर सांसद व विधानसभा उपाध्यक्ष द्वारा किसान मेले में लगाये गये विभागीय स्टालों का निरीक्षण किया और जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर संस्थान द्वारा मृदा स्वास्थ्य कार्ड वितरित किये गये। इस अवसर पर निदेशक शीतजल मात्स्यिकीय अनुसंधान निदेशालय भीमताल डा0 प्रमोद कुमार पाण्डे, ब्लाक प्रमुख बबीता भाकुनी, पूर्व निदेशक जे0सी0 भट्ट, मुख्य उद्यान अधिकारी टी0एन0 पाण्डेय सहित 04 जनपदों से आगे किसानों द्वारा प्रतिभाग किया गया।