May 28, 2022

अल्मोड़ा: जागेश्वर में चल रहे निर्माण कार्यों पर वन विभाग ने लगाई रोक, जाने पूरा मामला

 4,645 total views,  6 views today


अल्मोड़ा जिले से जुड़ी खबर सामने आई है। यहां जटागंगा से जागेश्वर तक करीब तीन किमी मार्ग और अन्य निर्माण कार्य वन विभाग की अनुमति लिए बगैर ही स्वीकृत कराकर संबंधित विभाग द्वारा निर्माण कार्य शुरू करा दिया गया था । जिस पर इसकी जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और अपनी भूमि पर निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी।

यह है पूरा मामला-

कुंजा और मंतोला ग्राम सभा के बीच में जटागंगा के उदगम स्थल से जागेश्वर तक करीब तीन किमी मार्ग के चौड़ीकरण, नदी में छोटे-छोटे चेकडैम समेत अन्य कार्यों के लिए कुछ समय पूर्व ही पर्यटन विभाग को करीब 85 लाख रुपये अवमुक्त हुए थे। आरडब्ल्यूडी को इसकी कार्यदायी संस्था बनाया गया है। मंतोला पुल से जागेश्वर सड़क तक पूरा इलाका  रिजर्व फॉरेस्ट में आता है। लोगों का कहना है कि विभाग ने फॉरेस्ट क्लीयरेंस बगैर ही कार्य शुरू कर दिया था। वही इस कार्य के लिए जटागंगा से ही घटिया किस्म की रेत अवैध तरीके से निकाली जा रही है। अवैध तरीके से पत्थर भी निकाले जा रहे हैं। इधर, बीते दिनों रिजर्व फॉरेस्ट में कार्य शुरू होने की भनक लगते ही रेंजर आनंद पाठक के नेतृत्व में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई थी। हालांकि तब तक जंगलात के क्षेत्र में निर्माण नहीं हुआ था। रेंजर ने बताया कि उन्होंने रिजर्व फॉरेस्ट की जानकारी संबंधित विभाग को दे दी है। रिजर्व फॉरेस्ट में किसी भी प्रकार का निर्माण कार्य बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। फिलहाल विभाग रिजर्व फॉरेस्ट से बाहर ही कार्य करा रहा है। लोगों का कहना है कि कार्य शुरू कराने से पहले ही विभाग को वन विभाग से एनओसी लेनी चाहिए थी।