August 16, 2022

अल्मोड़ा: धौलछीना रामलीला कमेटी की बैठक आयोजित, नई कार्यकारणी का गठन

 5,634 total views,  2 views today

रामलीला कमेटी धौलछीना की बैठक वरिष्ठ संरक्षक अमन सिंह मेहरा की अध्यक्षता में हुई। बैठक में कई प्रस्तावों पर चर्चा की गई। साथ ही सर्वसम्मति से निर्णय लेते हुए पुरानी कार्यकारिणी को ससम्मान भंग करते हुए नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। तथा आगामी रामलीला मंचन समेत तालीम की तैयारियों को लेकर चर्चा की गई।

आगामी 18 अगस्त से रामलीला मंचन के लिए तालीम का श्रीगणेश किया जाएगा

धौलछीना मैं रामलीला आयोजन को लेकर बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में वक्ताओं ने इस बार रामलीला को और अधिक भव्यता के साथ आयोजित किए जाने पर जोर दिया। इस दौरान बैठक में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि आगामी 18 अगस्त से रामलीला मंचन के लिए तालीम का श्रीगणेश किया जाएगा। तथा इस बार महिला पात्रों को भी अभिनय का अवसर प्रदान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त रामलीला के बीच-बीच में कुमाऊनी प्रसंगो को भी जोड़ने का प्रस्ताव पास किया गया।

चंद्र सिंह मेहरा बने अध्यक्ष

इस दौरान नई कार्यकारिणी के लिए चंद्र सिंह मेहरा को सर्वसम्मति से अध्यक्ष के लिए चुना गया। जबकि उपाध्यक्ष गोपाल सिंह मेहरा, प्रकाश वर्मा, सचिव राजू बोरा, उपसचिव कुंदन सिंह मेहरा, कोषाध्यक्ष प्रताप जीना, व्यवस्थापक दरबान सिंह रावत, नारायण सिंह मेहरा, अतिथि श व्यवस्थापक मनमोहन सिंह, मो0 सलमान तथा शांति व्यवस्था के लिए गोपाल मेहरा को चुना गया। व्यवस्थापक स्टेट मैनेजर दरबान सिंह रावत उत्तम व्यवस्था वह भव्य रामलीला महोत्सव करवाने तथा अध्यक्ष चंदन सिंह नेहरा ने सभी को इस पुनीत कार्य में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सहयोग करने की अपील की। इसके अतिरिक्त उमेश मनराल निर्देशक ने इस बार की रामलीला में कुमाऊनी प्रसंग वह विशेष अभिनय करवाने की बात कही इस दौरान सह निर्देशक निर्देशक, नंदन सिंह कार्की को सह निर्देशक, राकेश मेहता को स्टोर प्रभारी, किशन शिराड़ी, बच्ची शिराड़ी तालीम मास्टर, प्रशांत रावत को प्रचार प्रसार, नथीराम नौटियाल, राकेश मेहरा, ललित मोहन को लेखाकार की जिम्मेदारी दी गई।

ये रहे मौजूद

इस दौरान जमन सिंह मेहरा, बिशन सिंह, सू0 चंद्र सिंह दीवान सिंह राणा, आनंद सिंह, चंदन सिंह, सिंह, लाल सिंह, हरीश सिंह, रणजीत सिंह, धन सिंह, चंद्रशेखर पांडे, ललित लोहानी, राहुल मेहरा, त्रिलोक सिंह राणा, शिवराज बोरा,  आदि लोगों ने अपने विचार व्यक्त किए।