July 5, 2022

अल्मोड़ा: लेखक सुरेंद्र खोलिया की स्वरचित कविता, पलायन की वजह नेता है, जागो जनता जागो

 2,393 total views,  2 views today

“वो पलायन कैसे रुकेगा आपको भी पता है, और पलायन की वजह नेता है”
सारा पैसा खा देता है,क्योंकि वो नेता है,
सरकारी विभाग उनको कमा के देता, क्योंकि वो नेता  ।।

सड़क नहीं, अस्पतालों मे सुविधा नहीं, शिक्षा मे आधुनिकता नहीं।।।।।
रोजगार के साधन नहीं , जनता के पास कमाने को धन नहीं। ।।।
पलायन की वजह नेता है, क्योंकि सारा विकास का पैसा वो खा देता है ,इसका जवाबदार नेता है। ।।
जनता नेता चुनती है, फिर 5 साल तक उनके विकास कार्यो को सिर्फ़ सुनती है ।।।।
पलायन की वजह नेता है क्योंकि विकास सारा खा देता है। ।।

सरकारी विभाग घोटाले करता है ,
क्योंकि वो नेताओं से डरता है। ।
शासन प्रशासन के अधिकारी सुनते नहीं
क्योंकि जनता उनको चुनती नहीं। ।
जिनको हम चुनते है ,वो हमारे विकास के कार्यो से पैसे धुनते है।।।
पलायन इसलिए होता है क्योंकि इसकी वजह नेता है। ।।।।

सभी एक जैसे नहीं ,लेकिन अगर पलायन हुआ है
वो सब नेताओं की दुआ है। ।।।।।।
   जागो जनता जागो, ।।।।

क्षेत्र, राज्य और देश का विकास पहले, देश माँ है पार्टी जनता की सेवा और क्षेत्र, राज्य व देश का विकास करने का माध्यम। ।।।

लेखक सुरेंद्र खोलिया
ग्राम-एजेड़ा