July 1, 2022

उत्तराखंड: 5 लोगों की निर्मम हत्या के मामले में फांसी पर हाईकोर्ट ने निचली अदालत से मांगा रिकाॅर्ड, चाकू से किए गए थे 85 वार

 1,685 total views,  4 views today

नैनीताल: देहरादून प्रेमनगर में हुई अपने ही परिवार के 5 लोगों की सनसनीखेज हत्या के मामले में निचली अदालत द्वारा दी गई फांसी की सजा पर हाई कोर्ट में मंगलवार को सुनवाई हुई। हाई कोर्ट ने मामले की सुनवाई के बाद निचली अदालत के सभी रिकार्ड तलब किया है। कोर्ट अब 4 हफ्ते बाद इस मामले में सुनवाई करेगा। आपको बता दें कि 5 अक्टूबर 2021 को निचली अदालत ने हरजीत को अपने ही परिवार के 5 लोगों की निर्मम हत्या करने के जुर्म में फांसी की सजा सुनाई है।

यह है पूरा मामला

23 अक्टूबर 2014 को आरोपी हरजीत ने अपने पिता जय सिंह, सौतेली मां कुलवंत कौर, गर्भवती बहिन हरमीत कौर, तीन साल की भांजी सहित बहिन की कोख में पल रहे गर्भ की भी निर्मम तरीके से चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी थी। हत्यारे ने पांच लोगों की हत्या करने में चाकू से 85 वार किए थे, जिसकी पुष्टि मेडिकल रिपोर्ट से हुई थी। पुलिस ने जांच में पाया था कि हरजीत के पिता की दो शादियां थीं। उसको शक था कि उसके पिता सारी संपत्ति को सौतेली बहिन के नाम पर कर देंगे। उसकी सौतेली बहिन एक हप्ता पहले अपनी डिलीवरी के लिए यहां आई हुई थी। इस बात का फायदा उठाते हुए हरजीत ने दीवाली की रात को घर पर पांच लोगों की निर्मम हत्या कर दी। हत्यारे ने घटना को चोरी का अंजाम देने का मामला बताए जाने को लेकर अपना हाथ को भी काट लिया था। इस केस का मुख्य गवाह पांच वर्षीय कमलजीत बच गया। 24 अक्टूबर 2014 को पुलिस ने उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। अब इस मामले में हाईकोर्ट ने रिकॉर्ड तलब किया है।