October 5, 2022

अल्मोड़ा: जेल में क्षमता से डेढ़ गुना ज्यादा है कैदी

 2,233 total views,  2 views today


उत्तराखंड के अल्मोड़ा की ऐतिहासिक जेल 1872 में अंग्रेजों द्वारा स्थापित की गयी थी। इस जेल में वर्तमान में क्षमता से डेढ़ गुना अधिक कैदी बंद है, जो अलग अलग अपराधों की सजा काट रहे है। इस जेल में वर्तमान में तीन जिलों के 300 से अधिक कैदी बंद है।

समेत 270 से अधिक स्वतन्त्रता संग्राम भी बंद थे इस एतिहासिक जेल में-

अल्मोड़ा की जिला जेल आजादी के इतिहास से जुडी हुई है,यह अंग्रेज़ो के ज़ुल्म की गवाह रही है। यहाँ आज़ादी के दीवानों में जननायक पं. जवाहर लाल नेहरू समेत 270 से अधिक स्वतन्त्रता संग्राम सेनानियों ने इस ऐतिहासिक जेल की काल कोठरियों में गुज़ारे है। यह जेल उत्तराखंड सबसे पुरानी जेलों में शुमार है।

जेल में बंद कैदियों के पास कैसे पंहुचे मोबाइल-

वहीं सोमवार को इस ऐतिहासिक जेल में एसटीएफ और पुलिस की संयुक्त छापेमारी के दौरान कैदियों के पास अवैध रूप से नगदी और मोबाइल बरामद हुए। जिसमें कहीं ना कहीं इस तरह से कैदियों के पास नगदी और मोबाइल बरामद होने से जेल प्रशासन पर भी कई सवाल खड़े कर रहा है। कैसे जेल में बंद कैदियों के पास मोबाइल पहुंचे, अभी इस बार में कोई भी अधिकारी बताने को राजी नहीं है। वही अधिकारी मामले में जांच की बात कर रहे है।