October 2, 2022

अल्मोड़ा: जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर धरना जारी

 1,583 total views,  2 views today

अल्मोड़ा: जिला विकास प्राधिकरण की व्यवस्था को समाप्त करने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन का सिलसिला जारी है।जिला मुख्यालय में गठित
सर्वदलीय संघर्ष समिति के बैनर तले विभिन्न संगठनों ने मंगलवार को  गांधी पार्क में धरना दिया।समिति ने सप्ताह में एक दिन प्रदर्शन का फैसला लिया है।इधर समिति से जुड़े आंदोलनकारियों ने मांग पर ध्यान नहीं दिए जाने पर आंदोलन तेज करने की चेतावनी दी गयी है।

जिला विकास प्राधिकरण को स्थगित करना इस सरकार की षडयंत्रकारी नीति है

मंगलवार को धरना स्थल पर समिति के संयोजक व पालिकाध्यक्ष प्रकाश चंद्र जोशी ने कहा कि तीन साल पूर्व प्रदेश की भाजपा सरकार ने तुगलकी फरमान से पूरे पर्वतीय क्षेत्रों में जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण लागू कर दिया था। जिसका स्थानीय जनता एवं समिति लगातार विरोध कर रही है।कहा कि भाजपा का जिला विकास प्राधिकरण को स्थगित करना इस सरकार की षडयंत्रकारी नीति है।डीडीए गठित होने के बाद से नगर पालिका की आय पर अत्यंत प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है। सरकार का यह कदम  निकायों को कमजोर करने की साजिश है।इस दौरान धरना स्थल पर अन्य वक्ताओं ने सरकार से जल्द डीडीए समाप्ति का शासनादेश जारी करने की मांग उठाई। जल्द शासनादेश जारी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

यह लोग रहे मौजूद

धरने में नगरपालिका अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी,कांग्रेस जिलाध्यक्ष पीतांबर पांडे,हर्ष कनवाल,समिति के प्रवक्ता राजीव कर्नाटक,दीपांशु पांडे,चंद्रमणि भट्ट,महेश आर्या,ललित मोहन पंत, राजू गिरी,प्रताप सत्याल,एमसी कांडपाल,एनडी पांडे,रॉबिन मनोज भंडारी,भारतरत्न पांडे,नवीन गुणवंत, अख्तर हुसैन,लक्ष्मण सिंह ऐठानी,हेम जोशी,ललित मोहन जोशी,हेम तिवारी समेत विभिन्न संगठनों के लोग मौजूद रहे।