January 21, 2022

अल्मोड़ा: सेवा ही संगठन -2 के तहत भाजयुमों ने जिलाधिकारी से महिला अस्पताल में कोविड रैपिड टेस्ट व्यवस्था की मांग की

 1,667 total views,  2 views today


पूरे प्रदेश में भारतीय जनता युवा मोर्चा के द्वारा सेवा ही संगठन के तहत कोविड-19 के कारण जनता को आ रही परेशानी को हल किया जा रहा है, युवा मोर्चा द्वारा इसी कार्यक्रम के तहत प्रत्येक मंडलो अध्यक्षों के माध्यम से अपने -अपने क्षेत्रों में लोगों की परेशानियों का निवारण कर रही है, इसी क्रम में आज भाजयुमों द्वारा सेवा ही संगठन -2 के तहत कोविड काल में गर्भवती महिलाओं की परेशानी को समझते हुए, जिलाधिकारी से महिला अस्पताल अल्मोड़ा में कोविड रैपिड टेस्ट व्यवस्था की मांग की ।

दूरस्थ क्षेत्रों से आने वाली गर्भवती  महिलाओं की ये परेशानियों को समझा जाए

सेवा ही संगठन 2 तहत ही मालूम चला की महिला अस्तपाल में आ रही एक गर्भवती महिला ने बताया की वह अल्ट्रा साउंड के लिए महिला अस्तपाल आयी थी, किन्तु उसको कोविड-19 की नेगटिव रिपोर्ट लेकर आनी होती है, जिसके लिए बेस अस्पताल जाना होता है, बिना नेगेटिव रिपोर्ट के किसी भी महिला को अल्ट्रासाउंड तथा अन्य इलाज़ नहीं दिया जा रहा है, महिला जो की गर्भवती अवस्था में बेस अस्पताल जाती है जहाँ उसे जाने के लिए गाड़ी का इंतज़ार करना होता है और  आज कल गाड़ी की उपलब्धता बहुत कम हो गयी है, जिसके कारण मरीज को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है और  जब तक मरीज बेस अस्तपाल जा कर अपना टेस्ट कर वापिस आती है तो अल्ट्रासाउंड बंद हो चुके होते है। दुरस्थ क्षेत्र से आने वाले गर्भवती महिलाओं की ये परेशानियों को समझा जाए ।

कोविड रैपिड टेस्ट व्यवस्था की मांग की

भारतीय जनता युवा मोर्चा ने  जिलाधिकारी से निवेदन किया की गर्भवती महिलाओं का विक्टर मोहन जोशी अस्तपाल  में कोविड रैपिड टेस्ट हेतु महिला अस्तपाल में ही व्यवस्था की जाए जिससे की गर्भवती महिलाये उसी वक्त अपना टेस्ट कर अल्ट्रासाउंड कर घर जा सके ताकि जच्चा बच्चा दोनों ही सुरक्षित रहे ।

इतने लोग थे शामिल

जिलाध्यक्ष युवा मोर्चा सुनील बिष्ट, जिला महामंत्री सौरभ वर्मा, कुमाऊँ सह संयोजक मनीष बिष्ट, जिला उपाध्यक्ष अमित बिष्ट, जिला मंत्री प्रकाश बिष्ट,जिला मंत्री पुष्कर कनवाल, मंडल अध्यक्ष हवालबाग राहुल बिष्ट, नगर अध्यक्ष अर्जुन बिष्ट, पियूष कुमार, निखिल कुमार टम्टा, आशीष गुरुरानी, महेंद्र बिष्ट, शामिल थे ।