February 24, 2024

Khabribox

Aawaj Aap Ki

मौसी निकली भतीजे की हत्या की मास्टरमाइंड, रेलवे ट्रैक पर सर पटक-पटक कर उतारा मौत के घाट

छत्तीसगढ़ के बलौदा में हत्या की एक सनसनीखेज वारदात हुई है। हैरान करने वाली बात यह है कि एक मौसी ही अपने भतीजे की हत्या की मास्टरमाइंड निकली। भतीजा शराब का आदी था, जिसके चलते मौसी ने भतीजे को रास्ते से ही हटा दिया।

ऐसे दिया हत्या को अंजाम

10 अक्टूबर को पुलिस को सूचना मिली थी कि खमरिया मिरगी गांव के पास रेल की पटरी पर एक अज्ञात शव पड़ा हुआ है। जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और जांच पड़ताल शुरू की। मृतक युवक की पहचान मोहित कोसले निवासी सदर वार्ड भाटापारा के रूप में हुई। जिसके बाद पुलिस ने युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में युवक की हत्या की बात सामने आई क्योंकि उसके शरीर पर चोट के कई निशान थे। पुलिस को जांच के दौरान जहां मोहित का शव पड़ा हुआ था वहां से 2 किलोमीटर की दूरी पर एक बाइक मिली। बाइक के सीट पर और टंकी पर कीचड़ और मिट्टी लगी थी। पुलिस ने जब बाइक के मालिक का पता करवाया तो यह बाइक खमरिया गांव में रहने वाले धीरज यादव के नाम पर रजिस्ट्रेट थी। पुलिस को पता चला कि धीरज शराब की भट्टी चलाता है, जिसके बाद पुलिस ने धीरज और उसके साथी वासु कुर्रे को पकड़ा और जब उनसे सख्ती से पूछताछ की दोनों ने हत्या की बात कबूल ली। धीरज ने बताया कि मृतक मोहित कोसले अपनी मौसी के साथ रहता था, वह शराब पीने का आदी था। ऐसे में मोहित आए दिन शराब पीकर अपनी मौसी लक्ष्मी घृतलहरे से पैसे मांगता और उसके साथ मारपीट करता था। ऐसे में लक्ष्मी ने मोहित को रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। जिसमें धीरज और वासु ने उसका साथ दिया। 9 अक्टूबर को रात में करीब 10 बजे धीरज और वासु मोहित को शराब पीने के बहाने बाइक पर बिठाकर खमरिया मिरगी गांव के पास रेलवे ट्रैक पर पहुंचे। धीरज और वासु ने पहले मोहित को एक गड्ढे में डुबो डुबो कर अधमरा कर दिया। उसके बाद दोनों मोहित को खीचकर रेलवे ट्रैक पर ले गए। यहां दोनों ने मोहित का सिर पटरी पर पटक-पटक कर उसकी हत्या कर दी।पुलिस ने धीरज और वासु के बयान के बाद मोहित की मौसी लक्ष्मी को भी गिरफ्तार कर लिया है।