June 30, 2022

बागेश्वर: समाज कल्याण विभाग ने खोला 2021-22 छात्रवृत्ति आवेदन हेतु पोर्टल, जानें कब तक करें रजिस्ट्रेशन

 3,108 total views,  3 views today

आज जिला समाज कल्याण अधिकारी बागेश्वर ने अवगत कराया है कि समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित पूर्वदशम एवं दशमोत्तर कक्षाओं में अध्ययनरत अनुसूचित जाति, अनु0 जनजाति, पिछडी जाति, दिव्यांग एवं आर्थिक रूप से पिछडे वर्ग के छात्र/छात्राओं हेतु आवेदन पत्र आनलाईन किये जाने हेतु राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल को शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में https://scholarships.gov.in छात्रवृत्ति के नवीन पंजीकरण एवं नवीनीकरण हेतु खोले गए हैं। जिसमें 19 अगस्त 2021 से 30 सितंबर 2021 तक छात्रवृत्ति के लिए आवेदन किया जा सकता है। यह प्रक्रिया राष्ट्रीय छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाइन पूर्ण की जा रही है। जिसे आनलाईन पंजीकृत आवेदन पत्रों का सत्यापन कर जिला समाज कल्याण अधिकारी को आनलाईन प्रेषित किये जाने हेतु खोल दिया गया है।

2021-22 में आवेदनों का किया जाना है नवीनीकरण-

जिसमें यह भी कहा गया है कि ऐसे छात्र/छात्रा जिनको वर्ष 2021-22 में छात्रवृत्ति प्रदान की गयी है अथवा जिनके आवेदन को संबंधित जिला समाज कल्याण अधिकारी द्वारा सत्यापित किया गया है,उन्हें शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में आवेदनों का नवीनीकरण करना है व अन्य नये छात्र/छात्राओं को नवीन हेतु आवेदन करना है। ऐसे छात्र/छात्रा जिनको विगत शैक्षणिक वर्ष में अंक तालिका आवेदन करने की तिथि तक प्राप्त नहीं हुर्इ है। उनके द्वारा लास्ट ईयर की मार्कशीट में शैक्षणिक वर्ष 2019-20 की अंक तालिका को अपलोड किया जा सकता है।

यह जानकारी भी भरनी अनिवार्य-

जिसमें समस्त छात्र/छात्राओं द्वारा आवेदन पत्र में District फील्ड में छात्र/छात्रा का गृह जनपद भरा जायेगा। समस्त छात्र/छात्राओं द्वारा आवेदन पत्र में अपने बैंक की जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा तथा खाते में छात्रवृत्ति का भुगतान होने तक खाते को सक्रिय रखना होगा। जिन छात्र/छात्राओं के खाते ऐसे बैंक में है जिनका विलय किसी अन्य बैंक में हुआ है उन्हें अपना नया सही खाता एवं आर्इ0एफ0एस0सी0 कोड ही भरना होगा।

सभी संस्थानों/विद्यालयों से किया गया अनुरोध-

उन्होने सभी संस्थानों/विद्यालयों से अनुरोध किया है कि छात्र/छात्राओं के आवेदन पत्रों का आंनलार्इन सत्यापन करते समय उनके खाता संख्या, आर्इ0एफ0एस0सी0 कोड, आदि अन्य विवरण की सही जॉच करने के उपरान्त ही सत्यापन करें, ताकि प्रेषित धनराशि के नैफ्ट फेल की समस्या बार-बार उत्पन्न न हो।