December 4, 2022

बेंगलुरु के केम्पेगौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ने वर्ष 2020-21 में लगभग 22 लाख यूनिट ऊर्जा की बचत की

 2,960 total views,  2 views today

बेंगलुरु के केम्पेगौड़ा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे ने वर्ष 2020-21 में लगभग 22 लाख यूनिट ऊर्जा की बचत की है। विश्‍व पर्यावरण दिवस पर बेंगलुरु अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा लिमिटेड ने बताया कि हवाई अड्डा अपनी 98 प्रतिशत ऊर्जा जरूरत नवीकरणीय स्रोतों से पूरा करता है।

पर्यावरण संरक्षण के लिए किये विभिन्न उपाय

बेंगलुरु हवाई अड्डे का प्रबंधन करने वाली इस कंपनी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हरी मरार ने बताया कि पर्यावरण संरक्षण और कार्बन उत्सर्जन कम करने के लिए विभिन्न उपाय किए गए हैं।

सौर ऊर्जा की खपत बढ़ाकर पांच करोड़ यूनिट से अधिक कर दी है।

हवाई अड्डे ने सौर ऊर्जा की खपत बढ़ाकर पांच करोड़ यूनिट से अधिक कर दी है। युटिलिटी भवन में सौर पैनल लगाये गये हैं। दक्षिण रनवे एयरफील्ड देश का पहला एयरफील्ड है जहां शतप्रतिशत एलईडी लाइटें लगी हुई हैं। एलईडी बल्बों का इस्तेमाल स्ट्रीट लाइटों, पेरीमीटर लाइटों और एयरफील्ड लाइटों में किया जाता है, जिससे गैर नवीकरणीय ऊर्जा पर निर्भरता कम हो रही है।