January 24, 2022

खुमाड़ के स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया गया

 2,584 total views,  2 views today

मुख्यमंत्री  पुष्कर सिंह धामी  ने वर्चुअल माध्यम से सल्ट विधानसभा क्षेत्र में शहीद दिवस के अवसर आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया और देश की आजादी के लिए शहादत देने वाले स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों एवं आन्दोलनकारियों को नमन किया।

महात्मा गांधी ने खुमाड़ को कुमाऊँ का बारदोली नाम दिया”

5 सितम्बर 1942 को खुमाड़ में स्वतंत्रता सेनानियों पर तत्कालीन एसडीएम जॉनसन ने अधांधुध गोली चलवाई, जिसमें श्री खीमानन्द, श्री गंगाराम, श्री चूड़ामणि तथा श्री बहादुर सिंह मेहरा की शहादत हुई। इस शहादत के बाद महात्मा गांधी ने खुमाड़ को कुमाऊँ का बारदोली नाम दिया गया ।

सेनानियों के जज्बे एवं बलिदान को हमें अपनी स्मृतियों में संजोकर रखना होगा

मुख्यमंत्री श्री धामी ने कहा कि इस क्षेत्र में सविनय अवज्ञा आंदोलन, नमक सत्याग्रह, कुली बेगार तथा अंग्रेजो भारत छोड़ो आन्दोलन सर्वव्यापी रहा। भारत की आजादी के लिए अनेक लोगों ने अपना बलिदान दिया है इन सेनानियों के जज्बे एवं बलिदान को हमें अपनी स्मृतियों में संजोकर रखना होगा।