October 19, 2021

UPWWA की सराहनीय पहल: पुलिस एवं उनके परिजनों को मर्म चिकित्सा पद्वति द्वारा स्वस्थ रखने के टिप्स बताये गये

 1,512 total views,  2 views today

UPWWA अल्मोड़ा  की जिलाध्यक्ष श्रीमती हेमा बिष्ट

डाॅ0 अलकनन्दा अशोक कुमार उत्तराखण्ड पुलिस वाईव्स वेलफेयर की अध्यक्ष महोदया की पहल पर पुलिस जवानों/पुलिस परिवार की इस कोराना दौर में हर सम्भव मदद की जा रही है।
इसी क्रम में UPWWA अल्मोड़ा  की जिलाध्यक्ष श्रीमती हेमा बिष्ट द्वारा वर्तमान कोविड-19 की परिस्थितियों में जब कि चारों ओर भय एवं उदासी का वातावरण छाया हुआ है ऐसे समय में हमारी प्राचीन एवं वैदिक चिकित्सा पद्वतियों द्वारा इस माहौल से कैसे स्वयं को/ अपने परिवार को एवं समाज को सुरक्षित रख कोविड से बचाया जा सकता है

योगा एवं मर्म चिकित्सा प्रशिक्षक ने मर्म चिकित्सा के बारे में डेमो के माध्यम से जानकारी दी

इस हेतु श्री गिरीश सिंह अधिकारी जी योगा एवं मर्म चिकित्सा प्रशिक्षक के माध्यम से जनपद में सभी पुलिस कार्मिकों एवं उनके परिजनों के साथ ऑनलाइन चर्चा-परिचर्चा करते हुए मर्म चिकित्सा के बारे में डेमो के साथ विस्तृत जानकारी दी गयी।
श्री अधिकारी द्वारा प्राचीन मर्म चिकित्सा के अन्तर्गत ऐसे कौन से मर्म बिन्दु हैं जिनके द्वारा श्वसन तंत्र, हदय परिसंचरण तंत्र एवं तंत्रिका तंत्र (मस्तिष्क) पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है और जिससे वर्तमान परिस्थितियों में हम स्वयं को शारीरिक एवं मानसिक रूप से स्वस्थ्य रख सकते हैं के बारे में बताया गया।
 
सही ज्ञान के जरिये दर्द को चुटकियों में दूर कर सकते हैं

उन्होंने  बताया कि शरीर के हर हिस्से व अंग के लिए शरीर में अलग-अलग हिस्सों में मर्म स्थान नियम है।
सही ज्ञान एवं इसका प्रयोग कर हमें गर्दन, पीठ, सिर, कमर पैर दर्द आदि को मर्म चिकित्सा से चुटकियों में खत्म किया जा सकता है।