October 22, 2021

उत्तराखंड में 27 जुलाई तक लागू हुआ कोविड कर्फ्यू, इन्हें मिली छूट

 2,370 total views,  2 views today

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण में तेजी से गिरावट आ रही है। कुछ जिलों में तो कोरोना संक्रमण के मामले थमने लगे हैं। हालांकि अब कोरोना संक्रमण के मामलों में गिरावट होने लगी है और रिकवरी रेट बढ़ने लगा है। लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। जिसके चलते उत्तराखंड राज्य में एक बार फिर कोविड कर्फ्यू को एक हफ्ते के लिए बढ़ा दिया गया है। कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने सरकार के इस फैसले की जानकारी दी।

27 जुलाई तक लागू रहेगा कोविड कर्फ्यू-

अब उत्तराखंड में कोविड कर्फ्यू को 27 जुलाई की सुबह 6 बजे तक लागू कर दिया गया है। इसके साथ कुछ छूट भी दी गई है। इससे पहले कोविड कर्फ्यू 20 जुलाई की सुबह तक लागू था, जो अब 27 जुलाई तक लागू रहेगा।

मैदानी क्षेत्रों से पर्वतीय क्षेत्रों में आवाजाही के लिए कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता खत्म-

इसी के साथ अब कोविड कर्फ्यू लागू होने के साथ ही अब मैदानी क्षेत्रों से पर्वतीय क्षेत्रों में आवाजाही के लिए कोरोना जांच की निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता समाप्त कर दी गई है। 

हवाई जहाज से उत्तराखंड आने वाले इन यात्रियों को मिलेगी अनुमति-

कोविड कर्फ्यू के दौरान हवाई जहाज से उत्तराखंड आने वाले यात्रियों को राज्य में आने की अनुमति तब दी जाएगी, जब उन्होंने कोरोना की दोनों डोज लगाई हो।

वैक़्सीनेशन कार्यक्रम रहेगा जारी-

कोविड कर्फ्यू के दौरान कोरोना टीकाकरण अभियान जारी रहेगा। जिसमें अपने निकटतम वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं। इसी के साथ सभी स्वास्थ्य सेवाएं 24 घंटे चलेंगी। सभी नर्सिंग होम, क्लीनिक और टेलीमेडिसिन सेवाएं चालू रहेंगी।

बाजार खोलने के समय में हुआ बदलाव-

इसके अलावा अब राज्य में बाजार खुलने का समय सुबह 8 से रात्रि 9 बजे तक कर दिया गया है। इससे पहले बाजार खोलने का समय सुबह 8 से शाम 7 बजे तक था।

50 फीसदी क्षमता से खुलेंगे सिनेमाघर और पार्क-

कोविड कर्फ्यू के दौरान अब वाटर पार्क, सिनेमाघर, मल्टीप्लेक्स को भी 50 फीसद क्षमता के साथ खुलेंगे। जिसके लिए उत्तराखंड सरकार ने इजाजत दे दी है।

वर्तमान के नियमों आगे भी रहेंगे लागू-

इसी के साथ वर्तमान में लागू रियायतों के साथ कोविड कर्फ्यू को एक हफ्ते आगे बढ़ा दिया गया है। वही उत्तराखंड में कावड़ यात्रा पर रोक लगाने के बाद उत्तराखंड बार्डर भी सख़्ती बढ़ा दी है।