April 21, 2024

Khabribox

Aawaj Aap Ki

जिलाधिकारी ने जागेश्वर धाम के सौन्दर्यकरण विकास कार्यों को लेकर दिए आवश्यक निर्देश

अल्मोड़ा: जिलाधिकारी/अध्यक्ष जागेश्वर मन्दिर प्रबन्धन समिति नितिन सिंह भदौरिया की अध्यक्षता में समिति की बैठक वर्चुअल माध्यम से जिला कार्यालय में सम्पन्न हुई। बैठक में मन्दिर प्रबन्धन समिति द्वारा प्रस्तुत कई सुझावों पर चर्चा की गयी। जिलाधिकारी ने बताया कि मा0 मुख्यमंत्री द्वारा जागेश्वर धाम के विकास हेतु की गयी घोषणाओं में पवित्र जटागंगा उद्गम स्थल के सौन्दर्ययकरण के लिये शासन से धनराशि अवमुक्त हो चुकी है। उन्होंने इस कार्य हेतु कार्यदायी संस्था ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिकारियों को जल्द ही सौंदर्ययकरण कार्य शुरू करने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने जागेश्वर धाम में गौशाल निर्माण के कार्य को जल्द ही पूर्ण के करने के निर्देश दिये

  बैठक में जिलाधिकारी ने जागेश्वर धाम में गौशाल निर्माण के कार्य को जल्द ही पूर्ण के करने के निर्देश दिये उन्होंने विद्युत विभाग व जल संस्थान के अधिकारियों को निर्माणाधीन गौशाल में विद्युत कनैक्शन व पेयजल कनैक्शन जल्द ही लगाने के निर्देश दिये। बैठक में आरतोला/जागेश्वर में कैफे खोलने हेतु उपजिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि इस हेतु भूमि का चयन कर ली गयी है जिस पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभाग को अवश्यक कार्यवाही करने निर्देश दिये। बैठक में जिलाधिकारी ने झांकरसैम मंदिर को विकसित किये जाने हेतु ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिकारियों को जल्द ही आगणन तैयार की बात कही।

सूचीबद्ध पुजारियों को आर्थिक सहायता मिल सके

    बैठक में पर्यटन विभाग में सूचीबद्ध पुजारियों को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराये जाने पर जिलाधिकारी ने जिला पर्यटन विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि वे जल्द आर्थिक सहायता हेतु शासन को पत्र प्रेषित किया जाय ताकि सूचीबद्ध पुजारियों को आर्थिक सहायता मिल सके। उन्होंने जागेश्वर धाम में इंटरनेट की अच्छी सुविधा पर्यटको व आम जनता को मिल सके इसके लिये उन्होंने बीएसएनएल व जीओ के अधिकारियों से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिये। बैठक में जागेश्वर धाम के विकास हेतु अन्य महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर चर्चा की गयी।

बैठक में इतने लोग रहे मौजूद

   बैठक में उपजिलाधिकारी मोनिका, पर्यटन विकास अधिकारी राहुल चैबे, आपदा प्रबन्धन अधिकारी राकेश जोशी, क्षेत्रीय पुरातत्व अधिकारी चन्द्र सिहं चैहान, प्रबन्धक भगवान भटट, अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण निर्माण नितिन पाण्डे, अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान के0एस0 खाती सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।