October 22, 2021

फ्रेंडशिप डे 2021 : जानिये फ्रेंडशिप डे का इतिहास और महत्व

 1,076 total views,  2 views today

हर वर्ष अगस्त के पहले रविवार को भारत में फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है । इस दिन सभी अपने दोस्तों के साथ मिलकर सेलिब्रेट करते हैं, यह स्पेशल दिन फ्रेंडशिप को और अधिक मजबूत रखने के लिए सेलिब्रेट किया जाता है । वाकई में एक दोस्त ही होता है जो आपके बताने से पहले आपकी परेशानी को जान लेता है भले ही वो आपकी परेशानी को सुलझा न पाए पर कैसे भी करके आपके उदास चेहरे में मुस्कान जरूर वापस ले आता है ।

आइये जाने इसका इतिहास

सर्वप्रथम फ्रेंडशिप डे को साल 1958 में मनाया गया था। कहा जाता है कि 1958 में अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी। इस दिन अगस्त महीने का पहला रविवार था। मृत व्यक्ति का एक दोस्त था,  जो उससे बहुत अधिक लगाव रखता था। उसे जैसे ही इस बात की खबर हुई कि उसका दोस्त मर गया है तो उसने भी उसी समय  आत्महत्या कर ली। इसी वजह से अमेरिकी सरकार ने इस दिन को फ्रेंडशिप डे के रूप में मनाने की घोषणा की । अंतर्राष्ट्रीय मित्रता दिवस को 30 जुलाई के दिन आधिकारिक रूप में घोषित किया गया। भारत में फ्रेंडशिप डे अगस्त महीने के पहले रविवार के दिन मनाया जाता है। 

दोस्तों का महत्व

किसी भी व्यक्ति के जीवन में फ्रेंडस का उतना ही महत्व है जितना की परिवार के और सदस्यों का ।एक अच्छा  दोस्त आपको हमेशा सही राह में जाने को प्रेरित करता है । दोस्ती ईमानदारी से निभाने वाला एक रिश्ता है । अकसर फ्रेंडशीप डे का दोस्तों को बेसब्री से इंतजार रहता है ।फ्रेंडशिप डे के दिन सभी लोग अपनी सदभावना अपने मित्रों के साथ व्यक्क्त करते हैं । और कई लोग एक दूसरे को फ्रेंडशिप का बैंड बांधकर हमेशा दोस्ती निभाने का वादा करते हैं ।