October 4, 2022

पिथौरागढ़: राष्ट्रपति पुरुस्कार गांव रणकोट में डंपिंग जोन बनाए जाने का विरोध

 893 total views,  2 views today

गंगोलीहाट नगर पंचायत द्वारा ग्राम रणकोट के तोक काकड़कटवा में कूड़ा निस्तारण स्थल बनाए जाने के कार्य को रोके जाने के लिए राष्ट्रपति पुरस्कार निर्मल गांव रणकोट की प्रधान संगीता देवी ने गंगोलीहाट के संयुक्त मजिस्ट्रेट को लिखे पत्र में कहा है कि नगर पंचायत गंगोलीहाट द्वारा ग्राम रणकोट के तोक काकड़कटया में कूड़ा फेंके जाने की कार्यवाही किए जाने की बात कही है।

जल स्रोत नष्ट होने की बात कही

वही पत्र में कहा है कि जिस स्थान पर कूड़ा फेंके जाने की तैयारी नगर पंचायत कर रही है उसके आसपास ग्रामीणों के आवासीय भवन है और गांव के लिए जाने वाला पानी का स्रोत है जिससे भविष्य में ग्रामीणों को गंभीर समस्या उत्पन्न होने की संभावना व भविष्य में गांव में महामारी फैलने की पूर्ण संभावना बताई गई है तो वहीं प्रधान ने जल स्रोत नष्ट होने की बात भी पत्र में कही है ।

प्रधान संगीता देवी ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को दिया पत्र

वही प्रधान ने पत्र में लिखा है कि ग्राम रणकोट पूर्ण रूप से अनुसूचित बाहुल्य गांव है और पूर्व में इस गांव को राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित कर आईनिर्मल गांव घोषित किया गया है। इधर पत्र में ग्राम प्रधान संगीता देवी ने संयुक्त मजिस्ट्रेट से अनुरोध किया है उक्त स्थान पर से कूड़ा निस्तारण की कार्यवाही को तुरंत रोका जाए ।

पत्र में हस्ताक्षर किए

पत्र में प्रधान संगीता देवी, राम लाल, राजेंद्र प्रसाद , सुनील कुमार, गिरधारी लाल ,कमल किशोर , अशोक कन्याल , लोकेश कुमार रविंद्र कुमार ,हरीश राम व अजय प्रकाश के हस्ताक्षर है ।